सीधी ट्रेन सेवा शुरू करने की तैयारी:रेल मंत्रालय की हरी झंडी का इंतजार, रांची-बनारस इंटरसिटी एक्सप्रेस को लखनऊ तक बढ़ाने की तैयारी

रांची4 महीने पहलेलेखक: नितिन चाैधरी
  • कॉपी लिंक

रांची से उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ काे जाेड़ने के लिए सीधी ट्रेन सेवा शुरू करने की तैयारी है। अभी तक रांची से लखनऊ के लिए ट्रेन नहीं है। इसलिए, रांची रेल डिवीजन ने रांची से लखनऊ के लिए सीधी ट्रेन सेवा देने का फैसला किया है। रांची से बनारस जानेवाली रांची-बनारस इंटरसिटी एक्सप्रेस काे अब लखनऊ तक विस्तार दिया जाएगा। इसके लिए रांची रेल डिवीजन और दक्षिण-पूर्व रेलवे मुख्यालय की सहमति मिल गई है। फाइल रेल मंत्रालय भेजी गई है। वहां से हरी झंडी का इंतजार है। जैसे ही हरी झंडी मिलेगी, रांची-बनारस इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन लखनऊ तक चलेगी।

इससे पूर्व रांची रेल डिवीजन ने रांची से लखनऊ तक के लिए ट्राॅयल बेसिस पर एसी ट्रेन सेवा शुरू की थी, जाे फेल हाे गई थी। रेलवे काे लखनऊ तक एसी ट्रेन काे बंद करना पड़ा। इसके बाद रेलवे ने रांची-बनारस इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन काे ही लखनऊ तक विस्तार देने के लिए सहमति बनाई और रेल मंत्रालय काे प्रस्ताव भेज दिया।

रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियाें ने कहा कि इस ट्रेन काे लखनऊ तक विस्तार देने में काेई अड़चन नहीं है। रांची से बनारस इंटरसिटी ट्रेन सप्ताह में पांच दिन चलती है। रांची स्टेशन से शाम 8:05 बजे बनारस के लिए खुलती है। रविवार और बुधवार काे छाेड़कर यह ट्रेन पांच दिन रवाना हाेती है। वहीं, हटिया से दुर्ग तक चलने वाली हटिया-दुर्ग एक्सप्रेस ट्रेन का नागपुर रेलवे स्टेशन तक विस्तार किया जाएगा, क्याेंकि हटिया से दुर्ग जाने के बाद ट्रेन 12 घंटे तक दुर्ग स्टेशन पर ट्रेन खड़ी रहती है। ट्रेन की रैक का इस्तेमाल करने के लिए रेलवे ने दुर्ग से चार-पांच घंटे की दूरी पर नागपुर स्टेशन तक ट्रेन के विस्तार काे हरी झंडी देने की याेजना बनाई है।

खबरें और भी हैं...