घर के पिस्टल ने बच्ची की ली जान:खिलौना समझकर खेल रही थी, गोली चलने से हुई थी घायल 9 दिन बाद RIMS में मौत

रांचीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
घर में रखे पिस्टल को वह खिलौना समझ कर खेल रही थी। इसी दौरान गोली चल गई। गोली सीधे युवती की आंख में लग गई थी। - Dainik Bhaskar
घर में रखे पिस्टल को वह खिलौना समझ कर खेल रही थी। इसी दौरान गोली चल गई। गोली सीधे युवती की आंख में लग गई थी।

रांची के खलारी की श्वेता मंगलवार को जिंदगी की जंग हार गई। RIMS के डॉक्टर भी उसे बचा नहीं पाए। 5 दिसंबर को उसे घायलावस्था में RIMS में एडमिट कराया गया था। उसका गुनाह बस इतना है कि घर में रखे पिस्टल को वह खिलौना समझ कर खेल रही थी।

इसी दौरान गोली चल गई। गोली सीधे युवती की आंख में लग गई थी। इसके बाद उसकी स्थिति बिगड़ते चली गई। परिजन पहले उसे प्राथमिक उपचार के लिए पिपरवार क्षेत्रीय अस्पताल में भर्ती कराए थे। स्थिति वहां नहीं संभली। प्राथमिक उपचार के बाद उसे RIMS रेफर कर दिया गया था।

5 दिसंबर की शाम घायलावस्था में श्वेता को RIMS में एडमिट कराया गया था।
5 दिसंबर की शाम घायलावस्था में श्वेता को RIMS में एडमिट कराया गया था।

कहां से आया था पिस्टल, जाानने में जुटी पुलिस
पुलिस अब यह जानने में जुटी हुई है कि घऱ् में आखिर पिस्टल आया कहां से था? क्या यह लाइसेंसी था या अवैध तरीके से रखा गया था। पुलिस इसके लिए एक राउंड की पूछताछ परिजनों से कर चुकी है। मौत के बाद अब पुलिस इस मामले में सख्त कार्रवाई भी कर सकती है।