कोरोना / कुसुमटोली क्वारेंटाइन सेंटर में 60 की जगह हैं 99 लाेग

Kusumtoli Quarantine Center has 60 people in place of 99 people
X
Kusumtoli Quarantine Center has 60 people in place of 99 people

  • खाने-पीने की व्यवस्था से संतुष्ट हैं मजदूर, सेवा में दिनरात जुटे हैं स्वास्थ्यकर्मी और जवान

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:02 AM IST

पलामू. चंदवा प्रखंड में कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय कुसुमटोली एवं हरिजन आवासीय विद्यालय हड़गड़वा में दो प्रमुख क्वारेंटाइन सेंटर बनाए गए हैं। इनमें कुसुमटोली स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में कुल 60 लोगों के लिए रहने की व्यवस्था की गई है, लेकिन कुल 99 लोगों को यहां रखा गया है। इनमें 87 पुरुष एवं 12 महिलाएं हैं, जो देश के विभिन्न हिस्सों से आए हैं। क्वारेंटाइन सेंटर में रहनेवाले लोगों के लिए खाने-पीने की व्यवस्था अच्छे ढंग से स्थानीय प्रशासन द्वारा की गई है।
खाने की व्यवस्था की जिम्मेदारी एक स्थानीय युवक धनंजय कुमार को सौंपी गई है। यहां रहनेवाले लोगों को सुबह के नाश्ते में सब्जी-पूड़ी दी जाती है, जबकि दोपहर के खाने में दाल-भात व सब्जी दी जाती है तथा शाम के खाने में दाल-भात, सब्जी, पापड़ या अचार दिया जाता है। क्वारेंटाइन सेंटर में रहनेवाले लोगों ने खाने की प्रशंसा की है। यहां रहनेवाले लोगों की सुरक्षा के लिए स्थानीय पुलिस प्रशासन द्वारा चार जवान तैनात किए गए हैं, जो दिन-रात अपनी सेवा देते हैं। इनमें जवान दिनेश चंद्रवंशी, राजाराम यादव, योगेश यादव एवं मुंशी साव शामिल हैं। क्वारेंटाइन हुए लोगों की देखभाल व इलाज के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से डॉ. रमेश गुप्ता, सीएचओ कुमारी आरती बाड़ा, एएनएम सुधा भेंगरा व रश्मि कुमारी की ड्यूटी सुबह में है, जबकि शाम में देवाशीष पांडा, एएनएम टिंकी कुजूर व विभा कंचन को स्वास्थ्य जांच के लिए रखा गया है। खाना इसी परिसर में बनाया जाता है और यहीं से हरिजन आवासीय विद्यालय हड़गड़वा भेजा जाता है।
 हड़गड़वा विद्यालय में 47 लोगों को क्वारेंटाइन किया गया है। यहां डॉ. तरुण जोश लकड़ा, बालमति कुमारी, एकरेट एग्रेट, एमपीडब्ल्यू मनोज सिंह, फार्मासिस्ट मोहम्मद अफरोज एवं रमेश कुमार लोगों की स्वास्थ्य परीक्षण में लगे हैं।

सुरक्षा के लिए 4 जवान तैनात, कराया जा रहा सोशल डिस्टेंस का पालन
सुरक्षा के लिए भी यहां चार जवान तैनात किए गए हैं, जिनमें नारायण सिंह, इंद्रदेव उरांव, पिंटू महतो एवं मिथिलेश मिंज शामिल हैं। प्रवासी मजदूरों का आगमन जारी है। इसे देखते हुए प्रखंड के अन्य 15 विद्यालयों एवं पंचायत भवनों को क्वारेंटाइन सेंटर के रूप में विकसित करने के लिए प्रस्ताव जिला को भेजा गया है। दोनों सेंटर पर सोशल डिस्टेेंस का नियमतः पालन किया जा रहा है। कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय सेंटर से चार पाॅजिटिव केस मिलने से लोगों में दहशत भी है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना