पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अगस्त क्रांति:यादें...डोमचांच के 4 सपूतों ने दी थी शहादत

पलामूएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डोमचांच चौक पर जमा हुए लोगों पर जमकर लाठियां चलाई, फिर गोलियां बरसाई गई थी

जिन्होंने आजादी के लिए हंसते-हंसते अपने जीवन का होम किया उनमें जिले के स्वतंत्रता सेनानियों की भूमिका भी अग्रणी रही है। डोमचांच का शहीद चौक आज भी उनकी कुर्बानी की कहानी कह रहा है। महात्मा गांधी के आह्वान पर सन 1942 में शुरू हुए अगस्त क्रांति में यहां के वीरो ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया था और जिले में फैले संग्राम का गढ़ डोमचांच बना था। ब्रिटिश सरकार से असहयोग करते हुए आंदोलनकारियों ने 8 अगस्त 1942 को डाक घर और कलाली को फूंका था।

जोश एवं जज्बे से भरे आंदोलनकारियों की टोली 9 अगस्त को डोमचांच चौक पर जमा हुए थे। इसकी भनक मिलते ही तत्कालीन एसपी रसल ने अपने सिपाहियों को बेदर्दी से कुचलने का फरमान सुनाया और वहां इकट्ठी भीड़ पर जमकर लाठियां चलाई। पर इससे इतर भीड़ पर इसका प्रभाव नहीं पड़ा। आंदोलनकारियों के जज्बेे से हैरान अंग्रेजों की पुलिस ने ताबड़तोड़ गोेलियां बरसाने लगे। पुलिस के तांडव से भीड़ तितर बितर हो गई। इस घटना में घटना स्थल पर ही नुनमन धोबी और बलराम मोदी शहीद हो गए, जबकि बुरी तरह से घायल मंगर साव व उदित नारायण मेहता की मौत बाद में हो गई।

आजादी के बाद घटना स्थल पर ही वीर सपूतो की याद में शहीद चौक बनाया गया। इनके अलावा यहां के प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी अवध बिहारी दीक्षित, विश्वनाथ मोदी, नाल किशोर महथा, काशी पांडेय, टहल राम, गोवर्धन राम, विश्वनाथ पांडेय, कैलाश पांडेय, बोधराम साव, तीर्थ नारायण आदि के नाम शामिल है। कालांतर में अवध बिहारी दीक्षित व विश्वनाथ मोदी कोडरमा के विधायक भी बने और कई सालों तक प्रतिनिधित्व किया।

श्रद्धांजलि कार्यक्रम आज : डोमचांच स्थित शहीद चौक पर रविवार को श्रद्धांजलि कार्यक्रम होगा। इसमें अमर शहीदों को श्रद्धांजलि दी जाएगी। यह जानकारी अजय कृष्ण ने दी। कार्यक्रम में विभिन्‍न राजनीतिक दलों के नेताओं व समाजसेवी , जनप्रतिनिधि शामिल होंगे। उन्होंने कहा की कार्यक्रम की तैयारी पूरी कर ली गई है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें