छठ की तैयारी:महापर्व छठ कल से नदी में चट्टान और पानी की गहराई से बढ़ा खतरा

रामगढ़21 दिन पहलेलेखक: प्रदीप राज
  • कॉपी लिंक
तालाब में छठ घाट की सफाई करते लोग। - Dainik Bhaskar
तालाब में छठ घाट की सफाई करते लोग।
  • दामोदर नदी, बिजुलिया तालाब हैं बड़े घाट, सफाई शुरू हुई

अटूट आस्था और श्रद्घा का महापर्व छठ पूजा आठ नवंबर से चार दिवसीय महापर्व छठ प्रारंभ होगा। लेकिन,शहर के दो बड़े छठ घाट दामोदर नदी और बिजुलिया तालाब है। पिछले महीनों में तेज बारिश के कारण दामोदर नदी के किनारे मिट्टी का कटाव हो गया है। इससे,नदी के दोनों ओर के छठ घाट का दायरा घट गया है। वहीं, मिट्टी कटाव से नदी में पानी की गहराई बढ़ गई है। पत्थर व चट्टान निकलने से आने-जाने में दिक्कत होगी।

नदी में डेढ़ किमी के दायरा में है छठ घाट
दामोदर नदी के दोनों ओर करीब डेढ़ किलोमीटर छठ घाट का दायरा है। नदी के पुल से लेकर गढ़बांध और दूसरी ओर नईसराय की ओर, यानि करीब 50 हजार से अधिक लोगों की भीड़ जुटती है। इस बार मिट्टी कटाव से नदी के किनारे 50 फीट से घट कर 20 फीट ही छठ घाट रह गया है। नदी की पुरानी सीढि़याें के उपर तक बालू भर गया है। नदी का दायरा बढ़ने के साथ पानी की गहराई अधिक होने से खतरा बढ़ गया है।

गंदगी को लोग खुद कर रहे है सफाई
बिजुलिया तालाब दूसरा बड़ा छठ घाट है। यहां, बारिश के कारण पानी अधिक है। वहीं,कई लोेग खुद ही घाटों और तालाब की सीढि़यों की गंदगी की सफाई कर रहे है। तालाब के चारों ओर लोग छठ पूजा करते है। ऐसे में सफाई और सुरक्षा की व्यवस्था जल्द करनी होगी। इसके अलावा हरहरि नदी,जारा बस्ती के तालाब, पारसोतिया,आइटीआई रोड के पास तालाब सहित जलाशयों में छठ पूजा की जाती है।

डीसी ने किया घाटों का निरीक्षण, पदाधिकारी सहित पूजा समिति सदस्यों को दिए कई निर्देश
छठ पर्व को लेकर कुछ दिन ही शेष रह गए हैं। ऐसे में छठ पूजा समिति सदस्यों ने तैयारी तेज कर दी है। वहीं जिला प्रशासन की ओर से भी लगातार छठ घाटों की व्यवस्था का जायजा लिया जा रहा है। इसी के तहत डीसी माधवी मिश्रा के नेतृत्व में शनिवार को जिला प्रशासन की टीम ने विभिन्न छठ घाटों का दौरा किया। इस क्रम में रामगढ़ शहर अंतर्गत बिजुलिया तालाब एवं थाना चौक स्थित दामोदर नदी घाट तथा बरकाकाना क्षेत्र के जोड़ा तालाब का स्थल निरीक्षण हुआ। इस दौरान डीसी ने सबसे पूर्व सभी छठ घाटों पर साफ सफाई का जायजा लेते हुए अधिकारियों को पर्व के मद्देनजर घाटों पर पूरी तरह से सफाई कराने का कार्य जल्द से जल्द पूरा करने का निर्देश दिया।

वहीं उपायुक्त ने छठ पूजा घाट तक आने वाले रास्ते में साफ-सफाई सुनिश्चित कराते हुए अतिक्रमण हटाने की बात कही।छठ पूजा समिति के सदस्यों से उनके द्वारा किए जाने वाले कार्यों की विस्तार से जानकारी ली। मौके पर उन्होंने सभी सदस्यों को बिना मास्क लगाए किसी भी श्रद्धालु को घाट में प्रवेश न करने देने का निर्देश दिया।

खबरें और भी हैं...