पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गुणवत्तापूर्ण शिक्षा:शिक्षकों पर नकारात्मक, और घटिया बयानबाजी से परहेज करें मंत्री : संघ

रामगढ़12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

वित्त मंत्री झारखंड सरकार डॉ. रामेश्वर उरांव ने गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को लेकर बयान दिया था। इसे लेकर लगातार विवाद बढ़ता जा रहा है। झारखंड के शिक्षक संघ उनके बयान का लगातार विरोध कर रहे हैं। साथ ही माफी की मांग की जा रही है। इसी के तहत मंगलवार को जिला भर के सरकारी शिक्षकों ने काला बिल्ला लगाकर काम किया। इसी के माध्यम से विरोध दर्ज कराया गया। मामले को लेकर मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री से कार्रवाई की मांग की जा रही है।

झारखंड अराजपत्रित प्रारम्भिक शिक्षक संघ विरोध के दौरान अग्रणी भूमिका में है। वक्ताओं ने कहा कि वित्त एवं खाद्य तथा आपूर्ति मंत्री रामेश्वर उरांव के द्वारा सरकारी विद्यालय में कार्यरत शिक्षकों के प्रति तथ्यहीन , घटिया नकारात्मक तथा भ्रामक बयान दिया गया है। वित्त मंत्री की इस प्रकार की नकारात्मक टिप्पणी से पूरा शिक्षक समाज आहत है विरोध करने वालों मेंबाबूलाल झा, राज्य उपाध्यक्ष, झारखंड अराजपत्रित प्रारंभिक शिक्षक संघ, झारखण्ड, रांची, रामगढ़ जिलाध्यक्ष लालबहादुर चौधरी

सचिव रामटहल ओहदार, कोषाध्यक्ष चन्द्र मोहन महतो, उपाध्यक्ष गेंद कुमार महतो, अशोक कुमार गुप्ता, रामकिशोर प्रसाद, विसर्जन राम, संयुक्त सचिव परन महतो, महेन्द्र महली, सुखदेव महतो, विवेक कुमार, गुरुचरण महतो, बासुदेव पंडित, लखीराम कुमार, जालाराम मुण्डा, सुशील राम, अमानुल्लाह खान, अमित गिरी, वैद्धनाथ शर्मा, नारायण राम, राजकुमार किशोरिया, आशिक अन्सारी, तबारक हुसैन, देवेंद्रनाथ महतो आदि शामिल हैं।

सिरका में मंगलवार को संकुल अरगड्डा शिक्षक संघ और प्राथमिक शिक्षक संघ ने एक साथ काला बिल्ला लगाकर विरोध जताया। इसमें एनपीएस अरगड्डा झोपड़ी, नीचे धौड़ा, चाणक, मध्य विद्यालय अरगड्डा और कउवाबेड़ा हेसला, सिरका आदि क्षेत्रों के दर्जनों पारा शिक्षक, सरकारी शिक्षक शामिल हैं। मौके पर शिक्षक सतेंद्र प्रसाद, उपेंद्र पाठक, विजय चौहान, संजय बोस, सुरेंद्र तिवारी, सबिता कुमारी, रवि हांसदा, काशीनाथ बेदिया, सूरज नाथ बेदिया, धर्मनाथ महतो, सुचिता गाड़ी, संजय प्रसाद बच्ची देवी, गीता कुमारी, सुमित्रा कुमारी आदि शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...