आंदोलन:केंद्र की नीतियों के खिलाफ विपक्षी दलों ने सुभाष चौक पर किया प्रदर्शन

रामगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नेता बोले-मांगों पर सकारात्मक पहल नहीं होने पर आंदोलन होगा और तेज

केंद्र सरकार के खिलाफ सुभाष चौक के समीप बुधवार को धरना प्रदर्शन हुआ। इसमें कांग्रेस, झामुमो, राजद, सीपीआई, माले सहित तमाम विपक्षी दल के नेता और कार्यकर्ता शामिल हुए। वक्ताओं ने कहा कि केंद्र सरकार लगातार जनविरोधी नीतियां लेकर आ रही है। इससे आम लोगों का जीना मुहाल हो गया है। सरकार केवल पूंजीपतियों को ध्यान में रख कर कार्य कर रही। विपक्षी दलों की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ आंदोलन जारी रहेगा।

जल्द ही मांगों पर सकारात्मक कार्रवाई नहीं होने पर आंदोलन तेज करने की बात कही गई। प्रदर्शन के बाद राष्ट्रपति के नाम डीडीसी को 11 सूत्री मांग सौंपा गया। इसमें मुख्य रूप से भारत में सभी वैक्सीन उत्पादन की क्षमता बढ़ाने के साथ कोरोना में जान गंवाने वाले को उचित मुआवजा दिलाने, केंद्र सरकार को आयकर दायरे से बाहर के सभी परिवारों को प्रति माह 7,500 रुपए का मुफ्त नगद हस्तांतरण लागू करने, पेट्रोलियम और डीजल पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क में अभूतपूर्व बढ़ोतरी को वापस लेने, तीन कृषि विरोधी कानूनों को निरस्त करने, सार्वजनिक क्षेत्र के बेलगाम निजीकरण पर रोक लगाने, मनरेगा की मजदूरी दो गुणा करने, निगरानी के लिए पेगासस स्पाइवेयर के उपयोग की उच्चतम न्यायालय की निगरानी वाली न्यायिक जाँच तत्काल करने, राफेल सौदे की उच्च स्तरीय जांच कराने, राजद्रोह /एनएसए जैसे अन्य कठोर कानूनों का दुरुपयोग बंद करने, जम्मू -कश्मीर में सभी राजनीतिक बंदियों को रिहा करने आदि मांग शामिल है।

आमलोगों को दिखाया सब्जबाग, अब बोझ बन गई केंद्र सरकार - मुन्ना पासवान
कांग्रेस जिलाध्यक्ष मुन्ना पासवान ने कहा कि भाजपा लुभावनी वायदा कर सत्ता में आई। गरीबों को झूठा सब्जबाग दिखाया गया। लेकिन अब सरकार पूंजीपतियों की लठैत बन गई है। केवल उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए कार्य किया जा रहा है। इसे किसी भी कीमत पर स्वीकार नहीं किया जाएगा। भाजपा सरकार में आमलोगों का केवल शोषण हो रहा है। इसे रोकने के लिए कांग्रेस पार्टी सहित तमाम विपक्षी दल सड़क से सदन तक आंदोलन तेज करेगी। सरकार को हर हाल में जनविरोधी नीति वापस लेने के लिए बाध्य किया जाएगा। पूरे देश में आमलोग केंद्र सरकार से त्रस्त है। आने वाले चुनावों में इसका परिणाम देखने को मिलेगा।

खबरें और भी हैं...