नप कमेटी:ढोल-नगाड़े की थाप पर बैलों को नचाया गया

रामगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रामगढ़ नगर परिषद की वार्ड संख्या 27 के हुहुवा गांव में सोहराय पर बरदखुटा उत्सव धूमधाम से मनाया गया। यहां, शनिवार को सोहराय उत्सव पर ग्रामीणों ने बैलों की पारंपरिक रीति रिवाज से पूजा की। वहीं, बैलों को खूंटे से बांध कर ढोल-नगाड़े की थाप पर बैलों को खूब नचाया गया। इसमें, मुख्य अतिथि गिरिडीह सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी, विशिष्ट अतिथि नगर परिषद अध्यक्ष युगेश बेदिया व उपाध्यक्ष मनोज कुमार महतो ने भी ढोल नगाड़े बजाकर बैलों को नचाया।

इस दौरान परंपरागत लोकगीत पर सांसद चंद्रप्रकाश सहित अतिथि थिरके। यहां, सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी ने कहा कि सोहराय पर्व झारखंडी सभ्यता व संस्कृति का प्रतीक है। यह पर्व गाय,बैल,भैंस और मानव के बीच गहरे प्रेम को दर्शाता है। मूल निवासी खेती पर निर्भर है, और बैलों व भैंसों के माध्यम से खेती की जाती है। इसलिए सोहराय पर्व में पशुओं को माता लक्ष्मी के रूप में पूजा जाती है। नप अध्यक्ष युगेश बेदिया ने कहा कि सोहराय में हमारी सांस्कृतिक की झलक दिखती है। नप उपाध्यक्ष मनोज कुमार महतो ने कहा कि गांव में खुटा पर बांध कर बैलों के नचाने की परंपरा है। बैलों के नचाने का मतलब यह है कि खेतों में अच्छी उपज और गांवों की समृद्घ की कामना होती है। कार्यक्रम की अध्यक्षता वार्ड पार्षद सह समिति संरक्षक रोशन कुमार और संचालन आजसू के नप कमेटी सचिव राजेंद्र महतो ने किया।

वहीं, सांसद चंद्रप्रकाश चौधरी ने सांस्कृतिक कार्यक्रम का फीता काट का शुभारंभ किया। यहां, कलाकारों ने गीत-संगीत से लोगों को झुमाया। कार्यक्रम में धनेश्वर महतो,आजसू के नप समिति के सचिव राजेंद्र महतो,विभावि प्रभारी राजेश महतो,देवधारी महतो,चितु महतो,पार्षद प्रतिनिधि अरविंद महतो, मनोज महतो, किशुन मुंडा,महेंद्र चौधरी, नरेश महतो,मनोज़ कुमार, नीतीश निराला,अनिल पटेल,राजेश महतो,लाल बाबू मुंडा,सूरज साव, विवेक महतो, विजय महतो, दयानंद महतो, लखन महतो,रामवृक्ष महतो, सेवालाल महतो मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...