अव्यवस्था कायम:पीएम ने किया सीसीएल नईसराय के ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन

रामगढ़16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शिलापट्ट का अनावरण कर ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन करते मांडू विधायक जयप्रकाश भाई पटेल और अन्य। - Dainik Bhaskar
शिलापट्ट का अनावरण कर ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन करते मांडू विधायक जयप्रकाश भाई पटेल और अन्य।
  • एक करोड़ 15 लाख की लागत से बना है ऑक्सीजन प्लांट

सीसीएल केंद्रीय अस्पताल नईसराय में स्थापित ऑक्सीजन प्लांट का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को ऑनलाइन उद्घाटन किया। उनके संबोधन का सीधा प्रसारण ऑक्सीजन प्लांट के समीप हुआ। इसमें बतौर मुख्य अतिथि मांडू विधायक जय प्रकाश भाई पटेल शामिल हुए। वहीं विशिष्ट अतिथि के रुप में सीसीएल तकनीकी निदेशक भोला सिंह उपस्थित थे।

अतिथियों का स्वागत अस्पताल परिवार की ओर से बुके देकर हुआ। इसके बाद विधायक सहित अन्य अतिथियों ने विधिवत रुप से शिलापट्ट से अनावरण हटा कर ऑक्सीजन प्लांट का विधिवत शुभारंभ किया। मांडू विधायक जय प्रकाश भाई पटेल ने कहा कि कोरोना काल में पूरा विश्व में अव्यवस्था कायम हो गई। इससे कोई भी देश अछूता नहीं रहा सका। बड़ी जन संख्या होने के कारण भारत में प्रभावितों की संख्या में काफी अधिक थी। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल मार्गदर्शन और दृढ़ इच्छा शक्ति के कारण देश ने कोरोना से काबू पाया। पूरे विश्व में सबसे ज्यादा टिका करण भारत में ही हुआ।

अस्पताल के 20 बेडों पर की जाएगी मरीजों को सीधी आपूर्ति

विधायक ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी के कारण काफी परेशानी हो रही थी। इसे देखते हुए कई स्थानों पर ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किया गया। इसी के तहत आज सीसीएल केंद्रीय अस्पताल नईसराय में ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन हो पाया है। वहीं विशिष्ट अतिथि तकनीकी निदेशक ने कहा कि एक करोड़ 15 लाख की लागत से ऑक्सीजन प्लांट तैयार हुआ है। यहां एक मिनट में एक हजार लीटर ऑक्सीजन का उत्पादन हो सकेगा। अस्पताल के 200 बेड परआपूर्ति होगी।

ऑक्सीजन में आत्मनिर्भर बना रामगढ़ जिला, सुविधा बढ़ी

रामगढ़ जिला ऑक्सीजन उत्पादन में आत्म निर्भर बन गया है। सीसीएल केंद्रीय अस्पताल नईसराय में स्थापित ऑक्सीजन प्लांट से प्रति मिनट 1000 लीटर, सदर अस्पताल में स्थापित ऑक्सीजन प्लांट से प्रति मिनट 500 लिटर, घाटो में स्थापित ऑक्सीजन प्लांट से प्रति मिनट 833 लीटर ऑक्सीजन उत्पादन चालू हो चुका है। जिला में प्रति मिनट 2333 लीटर ऑक्सीजन उत्पादन चालू है। इसके अलावा ट्रामा सेंटर में ऑक्सीजन प्लांट का काम चालू है। यहां प्रति मिनट 800 लीटर ऑक्सीजन उत्पादन होगा।

खबरें और भी हैं...