पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मांग:रैयत विस्थापित संघर्ष मोर्चा ने जीएम से मांगी पैकेज डील के तहत नौकरी

उरीमारीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

रैयत विस्थापित संघर्ष मोर्चा हेंदेगीर ने सीसीएल बरका सयाल प्रक्षेत्र के हेंदेगीर कोलियरी में सीसीएल द्वारा अधिग्रहित जमीन के एवज में पैकेज डील के तहत नौकरी देने और शीघ्र ओपेन कास्ट खोलने की मांग जीएम से किया है। जीएम को सौंपे गये ज्ञापन मे मोर्चा ने कहा है कि ग्राम छापर थाना बुढ़मू के अंतर्गत हेंदेगीर कोलियरी विगत 1964 में प्राइवेट कंपनी के द्वारा भूमिगत खदान का संचालन किया जा रहा था।

वर्ष 1973 में राष्ट्रीयकरण होने के बाद छापर में हेंदेगीर कोलियरी के विस्तारीकरण ओपेन कास्ट के नाम पर वर्ष 1981-82 और 1994-95 मे कई चरणों में सीसीएल द्वारा एलए एक्ट एवं सीबी एक्ट के तहत स्थानीय रैयतों की भूमि अधिग्रहण की गई है। लेकिन रैयतों को नौकरी नही दी गर्ह है। सीसीएल द्वारा वर्ष 2000-01 लाॅ एंड आर्डर सेफ्टी ऑफ व्यू का हवाला देकर सभी भूमिगत खदान को बंद कर दी गई।

रैयतों द्वारा अधिग्रहित जमीन सरकारी अधिघोषणा 29 मार्च 1993 संख्या डीएलए रांची सीसीएल 1/93-443 बिहार राज्यपाल को यह प्रतीत होता है कि छापर के सार्वजनिक प्रयोजनार्थ केंद्रीय कोयला क्षेत्र लिमिटेड सीसीएल के हेंदेगीर ओपनकास्ट परियोजना 105एकड और 60ः75 एकड़ कुल 165ः75 एकड़ के बराबर भूमि अपेक्षित थी।

हेंदेगीर कोलियरी के रैयतों ने सर्वसम्मति से ग्रामसभा के माध्यम से पारित किया है कि 165ः75 एकड़ जमीन के एवज में पैकेज डील के तहत नौकरी दी जाये और ओपेन कास्ट को शीघ्र खेलने के लिये आवश्यक कदम उठाया जाये। जीएम को ज्ञापन सौंपने वालों में मोर्चा के अध्यक्ष चमरू लोहरा, ग्राम प्रधान भीम मुंडा, आदिवासी छात्र संघ के केंद्रीय उपाध्यक्ष छोटेलाल करमाली, रैयत विस्थापित संघर्ष मोर्चा के सचिव चरकु मुंडा, कोषाध्यक्ष जगदेव हांसदा, सदस्य शिवलाल मरांडी व राजन मुंडा शामिल थे।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें