टीकाकरण शुरू:टाटा डीएवी स्कूल में वैक्सीनेशन सेंटर शिफ्ट होने से बढ़ी परेशानी

घाटोटांड़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

को- वैक्सीनेशन सेंटर घाटो चिराटुंगरी स्पोर्ट्स होस्टल से हटा कर टाटा डीएवी घाटो में किए जाने के बाद लोगों की परेशानी बढ़ गई है। पिछले दो दिनों से टाटा डीएवी स्कूल को वैक्सीन के लिए केन्द्र बनाया गया है। स्कूल प्रबंधन ने स्कूल की छुट्टी होने तक वैक्सीन सेंटर बंद करा दिया है। दोपहर साढ़े 12 बजे छुट्टी के बाद ही स्कूल का गेट खोला जा रहा है।

तब जाकर वैक्सीन केंद्र खुल रहा है। दोपपर तक केंद्र बंद रहने के कारण वैक्सीनेशन के लिए आए लोगों की परेशानी बढ़ गई है। लोगों ने बताया कि घाटो में वैक्सीन सेंटर दो है। एक टाटा सेंटर हॉस्पिटल और दूसरा टाटा डीएवी स्कूल। टाटा अस्पताल में सिर्फ टिस्को कर्मियों और उनके परिजनों का टीकाकरण हो रहा है। उन्हें लम्बी कतार में नही खड़ा होना पड़ रहा है। जबकि गैर टिस्को कर्मियों के लिए स्कूल में केंद्र दिया गया है। यहां हमलोग सुबह से ही टीका लेने के लिए स्कूल के गेट के बाहर लंबी कतार में खड़े होकर केंद्र खुलने का इंतजार करते हैं। डीएवी स्कूल की जब तक छुट्टी नही होती तब तक केंद्र बंद रहता है।

स्कूल की छुट्टी होने के बाद ही गेट का ताला खुलता है तब जाकर केंद्र में टीकाकरण शुरू हो पाता है। जिसके कारण बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस संबंध में स्कूल प्रबंधन का कहना है कि स्कूल खुल चुके हैं। बच्चों की पढ़ाई जारी है। ऐसे में वैक्सीन सेंटर स्कूल में बनाया जाना प्रोटोकॉल के खिलाफ है। बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए प्रबंधन ने स्कूल छुट्टी के बाद ही सेंटर खोलने की अनुमति दिया गया है।

खबरें और भी हैं...