पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विस्तृत चर्चा:राधा गोविंद विवि में दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय ऑनलाइन सम्मेलन

रामगढ़7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

समाजशास्त्र विभाग, राधा गोविंद विश्वविद्यालय, रामगढ़, झारखंड के द्वारा त्रिभुवन विश्वविद्यालय, काठमांडू, नेपाल के सहयोग से दो दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय ऑनलाइन सम्मेलन का आयोजन हुआ। इसमें दो व्याख्यान सत्र एवं चार तकनीकी सत्र चलाए गए। इस सम्मेलन में देश विदेश से कुल 300 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया।

इसमें 100 प्रतिभागियों ने विषय आधारित पेपर प्रस्तुत किए। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में विश्वविद्यालय के कुलाधिपति बैजनाथ साह ने अपने उद्घाटन अभिभाषण में सभी राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय वक्ताओं एवं श्रोताओं का अभिनंदन किया। साथ ही पर्यावरण, तकनीकी एवं सतत विकास को समाज से जोड़ते हुए तकनीकी सदुपयोग करते हुए पर्यावरण को सुरक्षित रखने के बारे बताया।

तत्पश्चात राधा गोविन्द विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. निर्मल कुमार मंडल एवं त्रिभुवन विश्वविद्यालय से डॉ. राम हरि ढाकल ने संयुक्त रूप से सभी वक्ताओं एवं प्रतिभागियों का स्वागत किया। विशिष्ट अतिथि के रूप में माननीय कुलपति प्रो. डॉ. एम रज़ीउद्दीन ने विषय को विस्तार से बताते हुए भविष्य में इस तरह के कार्यक्रम को करते रहने के लिए शुभकामनाएं दी। राष्ट्रीय वक्ताओं के रूप में प्रो. बी के नागला, भारतीय समाजशास्त्र परिषद नई दिल्ली, प्रो. आभा चौहान,अध्यक्ष, समाजशास्त्र विभाग, जम्मू विश्वविद्यालय, प्रो. डॉ. मनीष कुमार वर्मा, समाजशास्त्र विभाग, बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय, लखनऊ, डॉ. सुदेशना मुखर्जी, एसोसिएट प्रो. सेंटर फॉर वीमेंस स्टडीज, बंगलोर विश्वविद्यालय, कर्नाटक, डॉ. शांतनु कुमार दुबे, प्रिंसिपल साइंटिस्ट आईसीएआर, कानपुर, डॉ. ख्वाज़ा मो. ज़ियाउद्दीन, समाजशास्त्र विभाग, एमएएनयूयू , हैदराबाद से जुड़े वक्ताओं ने सम्मेलन के विषय पर अलग अलग पहलुओं पर विस्तृत चर्चा की। अंतरराष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय वक्ताओं में केदार प्रसाद आचार्य, डायरेक्टर ऑफ फाइनेंस एंड प्लानिंग, यूजी सी, नेपाल, प्रो. डॉ. दीप्ति रंजन साहू, समाजशास्त्र विभाग, लखनऊ विश्वविद्यालय, प्रो. डॉ. रमेश मकवाना, अध्यक्ष, समाजशास्त्र विभाग, सरदार पटेल यूनिवर्सिटी, गुजरात आदि शामिल थे।

खबरें और भी हैं...