बड़ा सवाल:चोरों ने पहले घर से सामान चुराया, फिर साक्ष्य मिटाने के लिए घर में आग लगाई

रातू2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आग लगने से घर का सारा सामान जलकर राख हो गया। - Dainik Bhaskar
आग लगने से घर का सारा सामान जलकर राख हो गया।
  • क्या रांची पुलिस चोरी की इस परंपरा को रोक पाएगी?

थाना क्षेत्र के भवानी नगर पिर्रा में चोरों ने मंगलवार रात एक बार फिर एक बंद घर से ढाई लाख की संपत्ति की चोरी कर ली। चोरों ने चोरी के बाद बंद घर में आग लगा दी। आग लगने से घर का सारा सामान जलकर राख हो गया। शुक्र है, गैस सिलेंडर बच गया। घर के मालिक श्रीकांत शर्मा ने देर रात पुलिस को चोरी की सूचना दी। सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची। लेकिन, चोरों का पता नहीं लगा सकी।

घटना के संबंध में श्रीकांत शर्मा की पत्नी कुमारी कल्पना ने बताया कि हमलोग जरूरी काम से सोमवार को धुर्वा स्थित अपने घर गए हुए थे। घर में ताला बंद था। मंगलवार रात करीब डेढ़ बजे पड़ोसी ने सूचना दी कि आपके घर में आग लग गई है। रात को ही हमलोग भागे-भागे आए। घर आकर देखा तो पाया कि चोरों ने चोरी के बाद घर में आग लगा दी है।

पीड़िता बोलीं- घर बनाकर रहते हुए अभी 15 महीने ही हुए हैं

कुमारी कल्पना के अनुसार, चोरों के हाथ करीब ढाई लाख का सामान हाथ लगा है, जिसमें टीवी, लैपटॉप, दो ब्रीफकेश में रखा घर के कागजात अलावे कई सामान हैं। घर में कोई सामान नहीं बचा है। ना खाने का, ना ही पहनने का। श्रीकांत शर्मा हिनू में प्राईवेट में काम करते हैं। भवानी नगर पिर्रा में घर बनाकर रहते हुए अभी सिर्फ 15 महीने से ही रहे हैं। इन लोगों का किसी से विवाद भी नहीं है। इस संबंध में रातू थाना में लिखित सूचना दी गई है। देर शाम थाना प्रभारी आभाष कुमार टीम के साथ भवानी नगर पिर्रा पहुंचे और स्वयं जांच शुरू की। उन्होंने कहा कि चोर शीघ्र पकड़ा जाएगा।

अरगोड़ा पुलिस ने बाइक चोरी करते दो नाबालिगों को पकड़ा, 3 बाइक मिली

माैज-मस्ती करने के लिए स्कूल में पढ़ने वाले नाबालिगों द्वारा अरगोड़ा थाना क्षेत्र में लंबे समय से दोपहिया वाहनों की चोरी की जा रही थी, जिसका अरगोड़ा पुलिस ने खुलासा किया है। अरगोड़ा पुलिस ने दो नाबालिगों को पकड़ा है और इनकी निशानदेही पर तीन दोपहिया वाहन भी बरामद किए हैं। इन नाबालिगों द्वारा हाल ही में सितंबर व अक्टूबर में न्यू एरिया पीपरटोली से दो स्कूटी की चोरी की गई थी। दोनों नाबालिगों ने पूछताछ में बताया कि पीपर टोली एरिया में ये लगातार रेकी करते थे और दो पहिला वाहनों की चोरी करते थे। दोनों नाबालिगों ने बताया कि वे पढ़ाई करते है। लेकिन उन्हें लत लग गई थी।

खबरें और भी हैं...