रिम्स में भर्ती:इलाज के दौरान मजदूर की रिम्स में मौत, पांच लाख रु. मुआवजे की मांग

सतबरवा24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बोहिता गांव निवासी मजदूर उमेश सिंह 25 वर्ष की मौत रांची के रिम्स में इलाज के दौरान शनिवार को हो गई। जिसका दाह संस्कार बोहिता कोईली नदी के तट पर किया गया। मृतक का एक 2 वर्ष का पुत्र है तथा पत्नी खुशबू देवी गर्भवती है। परिजन का रो रो कर बुरा हाल है ,इस घटना से पूरा गांव मर्माहत हैं। बताते चले कि आंध्र प्रदेश के रेणुकुंडा में पोकल केमिकल्स एंड एसिड कंपनी में मजदूर उमेश सिंह काम करता था, इनके अलावा 15 अन्य मजदूर भी काम करते थे।

काम के दौरान सभी का तबीयत खराब होने के बाद उन्हें विशाखापट्टनम में ट्रेन से उतार कर अस्पताल में भर्ती कराया गया था।बीच रास्ते में आने के दौरान लातेहार के एक मजदूर की मौत भी हो गई थी .इन्हीं 15 मजदूरों में से एक मजदूर उमेश सिंह भी था, जो 3 दिन पूर्व घर आया था। घर आने के बाद उसे तुरंत इलाज के लिए मेदनीनगर ले जाया गया। जहां से बेहतर इलाज के लिए दो दिन पूर्व रांची के रिम्स में भर्ती कराया गया था।

जहां पर इलाज के दौरान शनिवार की सुबह में उसकी मौत हो गई।इनके मौत पर भाजपा अनुसूचित जनजाति के प्रदेश उपाध्यक्ष अवधेश सिंह चेरो, मुमताज अंसारी, भाजपा युवा मोर्चा पलामू जिला सदस्य आशीष कुमार सिन्हा ,विधायक प्रतिनिधि राणा प्रताप कुशवाहा, पप्पू प्रसाद ने शोक संवेदना व्यक्त की।

खबरें और भी हैं...