पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मामला दर्ज:मैं आगे पढ़ना चाहती हूूं, माता-पिता जबरन शादी करवा रहे : नाबालिग

सिमरिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • चाइल्डलाइन की टीम ने रुकवाई नाबालिग की शादी

प्रखंड में एक बार फिर बाल विवाह का मामला प्रकाश में आया है। जिस पर संज्ञान लेते हुए लोक प्रेरणा केंद्र के चाइल्ड लैण्ड सब सेंटर के लीडर और टीम के सदस्यों ने सिमरिया थाना क्षेत्र के दुंदवा गांव मे पहुंचकर विवाह हो रुकवा दिया। जानकारी के मुताबिक चाइल्डलाइन सब सेंटर पर उसके हेल्पलाइन 1098 पर किसी अनजान व्यक्ति का फोन आया। जिसमें उसने कहा कि एक 15 वर्ष की नाबालिग बच्ची का विवाह करवाया जा रहा है। शिकायतकर्ता ने कहा कि 30 नवंबर को उसकी शादी होनी है। बच्ची का विवाह की कुछ रस्म पूरा भी कर ली गई है। इस बात की जानकारी मिलने के बाद चाइल्डलाइन की टीम सदस्यों ने शादी वाले घर में पहुंच गई जहां शादी की तैयारियां चल रही थी। सभी रिश्तेदार और परिजन मौजूद थे।

शादी के घर में अचानक टीम के सदस्यों को देखकर बच्ची के परिजन काफी घबरा गए और कहा कि लड़की बालिग है। जब उसकी सर्टिफिकेट की जांच की गई तो पाया गया कि वह महज 15 वर्ष की ही है। सिमरिया पुलिस ने भी मामले को संज्ञान लेते हुए शादी पर प्रतिबंध लगा दिया। वहीं टीम के सदस्यों ने नाबालिग बच्ची को चाइल्डलाइन सेंटर चतरा ले गए। इस दरमियान बच्ची ने कहा कि वह आगे की पढ़ाई करनी चाह रही है और माता-पिता हमारी जबरन शादी करवा रहे हैं। इस शादी से बिल्कुल सहमत नहीं हूं। जल्द ही इस बच्ची को बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया जाएगा। इस बाबत टीम के लीडर फिल्मन बाखला अनीता मिश्रा, और कविता देवी ने कहा कि चतरा जिले में हमारी टीम ने कई बाल विवाह पर रोक लगाई है। छोटे छोटे बच्चियों की उम्र नहीं होने के बाद शादी के बंधन में बांध दिया जाता है। इसमें हमारी टीम ने सतर्कता दिखाते हुए अविलंब मामले पर कार्रवाई करते हुए नाबालिगों को इंसाफ दिला रही है। बाल विवाह एक कानूनन अपराध है और ऐसा करने वालों के खिलाफ सख्त सजा होनी चाहिए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपको कई सुअवसर प्रदान करने वाली हैं। इनका भरपूर सम्मान करें। कहीं पूंजी निवेश करने के लिए सोच रहे हैं तो तुरंत कर दीजिए। भाइयों अथवा निकट संबंधी के साथ कुछ लाभकारी योजना...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser