कैंप:प्लास्टिक सर्जरी कराने वाले मरीजों की जांच के लिए 21 काे लगेगा कैंप

सिमडेगा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

एसिड अटैक, जन्म से होंठ कटे, हाथी पांव एवं आग से जले पीड़ितों का प्लास्टिक सर्जरी कराने वाले मरीजों की जांच एवं स्कैनिंग के लिए 21 अक्टूबर काे जिले में कैंप का आयोजन किया जाएगा। गुरुवार काे सिविल सर्जन कार्यालय में प्रेस कांफ्रेंस में सिविल सर्जन डा. पीके सिन्हा और देवकमल हॉस्पिटल रांची के प्लास्टिक सर्जन डॉ अनंत सिन्हा ने संयुक्त रूप से बताया कि 21 अक्टूबर को जिला सदर अस्पताल में शिविर के माध्यम से एसिड अटैक, जन्म से होंठ कटे, हाथी पांव एवं आग से जले पीड़ितों का प्लास्टिक सर्जरी कराने वाले मरीजों का जांच एवं स्कैनिंग की जाएगी।

प्लास्टिक सर्जरी मरीजों का आयुष्मान भारत योजना के तहत मुफ्त में इलाज किया जाएगा। जिन पीड़ितों का आयुष्मान कार्ड नहीं बना है परन्तु उसके पास राशनकार्ड है उनका आयुष्मान कार्ड भी बनाने का कैंप लगाया जा रहा है। जिस पीड़ित व्यक्ति का आयुष्मान कार्ड नहीं है। उनका इलाज आयुष्मान कार्ड के दर पर ही किया जाएगा। स्कैनिंग एवं जांच के बाद व्यक्ति का ऑपरेशन के लिए रांची के देवकमल हॉस्पिटल में भेजा जाएगा। दो महीने बाद इलाजरत व्यक्ति का कैंप लगाकर उनका फीडबैक भी लिया जाएगा। प्रेस कॉन्फ्रेंस में डॉ पीके सिन्हा, प्लास्टिक सर्जन डॉ अनंत सिन्हा, समाज कल्याण पदाधिकारी रेणु बाला, स्वस्थ्य फेलो मिनाश्री होरो उपस्थित थीं।

खबरें और भी हैं...