पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

इबादत:अदा की अलविदा जुमे की नमाज, मदद का आह्वान

सिमडेगाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • इस बचे हुए रोजे के दौरान रात में भी जगकर अल्लाह की इबादत करें

मुस्लिम धर्मावलंबियों का पवित्र माह रमजान उल मुबारक के अलविदा जुमे की नमाज लोगों ने अदा की। कोरोना महामारी के चलते लोगों ने घरों में नमाज अदा की। बताया गया कि रमजान के जुमे का इस्लाम मे बड़ा महत्व है। अब रमजान के महीना विदा लेने को है। अलविदा जुमे के मौके पर जमीअत उलेमा के सदर मौलाना मिन्हाज ने कहा कि रमजान का आखिरी असरा चल रहा है।

इस बचे हुए रोजे के दौरान रात में भी जगकर अल्लाह की इबादत करें। इस दौरान कुछ लोग मस्जिदों में इतेफाक में बैठकर अल्लाह की इबादत करते हैं। यह अच्छा अमल है। मौलाना ने कहा कि मुसलमानों को जकात निकालना चाहिए। अपने माल का ढाई प्रतिशत जकात निकालकर उस पैसों को गरीबों को बांटना चाहिए,ताकि गरीब भी ईद की खुशी मना सकें।

खबरें और भी हैं...