जाना हाल:डायन-बिसाही के नाम पर अत्याचार दुर्भाग्यपूर्ण : बाबूलाल

सिमडेगा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
महिला से घटना की जानकारी लेते बाबुलाल मरांडी। - Dainik Bhaskar
महिला से घटना की जानकारी लेते बाबुलाल मरांडी।
  • रांची के देवकमल हॉस्पिटल में इलाजरत कुड़पानी निवासी झरियो बड़ाईक व परिजनों से की बात

भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने रांची के देवकमल हॉस्पिटल में इलाजरत सिमडेगा के कुड़पानी निवासी झरियो बड़ाईक और उनके परिजनों से मुलाकात की। उन्होंने हॉस्पिटल संचालक एवं बर्न स्पेशलिस्ट डॉक्टर आनंद सिन्हा से पीड़िता के बेहतर इलाज को लेकर चर्चा की एवं इलाज में कोई कमी नहीं करने का निर्देश दिया।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि 21वीं सदी में भी डायन बिसाही के नाम पर महिलाओं पर अत्याचार दुर्भाग्यपूर्ण है। 12 जनवरी की रात सिमडेगा के ठेठईटांगर थाना क्षेत्र अंतर्गत कुड़पानी में झरियो देवी को डायन बताकर ग्रामीणों ने पिटाई की और जलाकर मारने की कोशिश की थी। पुलिस ने घटना के पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि अशिक्षा और जागरूकता की कमी के कारण अक्सर ऐसी घटनाएं घटती है।

ऐसी कुप्रथाओं को रोकने के लिए सरकार के साथ समाज के प्रबुद्ध लोगों, एनजीओ आदि को भी आगे आना चाहिए। सामाजिक दायित्व समझते हुए लोगों को अंधविश्वास के खिलाफ जागरूक करना चाहिए। बाबूलाल मरांडी के साथ भाजपा के प्रदेश मीडिया सह प्रभारी अशोक बड़ाईक रांची ग्रामीण के भाजपा जिला उपाध्यक्ष प्रभुदयाल बड़ाईक उपस्थित थे।

दोषियों को कड़ी सजा देने की मांग
झारखंड चीक - बड़ाइक उत्थान समिति के केंद्रीय अध्यक्ष श्यामसुंदर बड़ाईक ने ठेठ‌ईटांगर थाना क्षेत्र के कुड़पनी में झारियो बड़ाइक नामक महिला को डायन बता कर जलाने के प्रयास की निंदा करते हुए कार्रवाई की मांग की है। कहा कि प्रशासन दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाए और पीड़ित परिवार को 10 लाख रु मुआवजा दे। इधर एसपी ने उन्हें आगे की कार्रवाई तत्परता के साथ करने का आश्वासन दिया।

खबरें और भी हैं...