जिला स्थापना समिति की बैठक में डीसी ने दी चेतावनी:15 तक ज्वाइन करें शिक्षक, नहीं ताे करेंगे दावेदारी समाप्त, वेटिंग लिस्ट वाले आएंगे, जानकारी लेने के बाद कई निर्देश जारी

सिमडेगा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

उपायुक्त सुशांत गौरव की अध्यक्षता में जिला स्थापना समिति की बैठक हुई। एनआईसी कक्ष में ई-मुलाकात के माध्यम से आयोजित बैठक में उपायुक्त ने स्थापना एवं अनुकंपा से संबंधित मामले की समीक्षा करते हुए विभाग के पदाधिकारी को महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश दिए।

शिक्षा विभाग के स्थापना से संबंधित मामले की समीक्षा के क्रम में शिक्षकों की बहाली होने के बाद भी नवनियुक्त शिक्षक द्वारा विद्यालय में योगदान न देने की स्थिति को देखते हुए नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने 15 जनवरी के 12 बजे अपराह्न तक नव नियुक्त शिक्षक को विद्यालय में योगदान देने एवं कर्तव्य निष्ठा का अनुपालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। निर्धारित तिथि में योगदान नहीं देने पर 17 जनवरी को आयोजित जिला स्थापना समिति की बैठक में नियुक्ति की उम्मीदवारी समाप्त कर दी जाएगी। वेटिंग लिस्ट के उम्मीदवार को योगदान हेतु सुचित करने का निर्णय लिया जाएगा।

जिले की वेबसाइट में इससे संबंधित विज्ञापन प्रकाशन करने का निर्देश दिया। एसएमएस व दूरभाष के माध्यम से भी अंतिम चेतावनी देते हुए विद्यालय में योगदान देने हेतु सूचित करने की बात कही। बैठक में कस्तूरबा विद्यालय के रिक्त पद पर भी समीक्षा की गई। नियुक्ति में ठगी के मामले की समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने कहा कि फाॅल्स फोन नंबर का सूची तैयार कर पुलिस अधीक्षक को आवश्यक कार्रवाई हेतु प्रेषित करें, कार्रवाई की जाएगी। उन्हें बख्शा नहीं जाएगा।उन्होंने समाज कल्याण, स्वास्थ्य विभाग, पीएचडी विभाग, शिक्षा विभाग अन्तर्गत नियुक्ति कार्यों की समीक्षा की। रिक्त पदों पर बहाली करने की दिशा में विभाग के पदाधिकारियों को वरीय अधिकारी से समन्वय स्थापित करते हुए विज्ञापन जारी करने का निर्देश दिया। आगामी जिला स्थापना समिति की बैठक में नियुक्ति से संबंधित महत्वपूर्ण निर्णय सामने आएंगे।

उन्होंने कार्यालय कर्मियों के मामले की भी समीक्षा की। इसके अलावे अन्य महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने कहा काम में लापरवाही नहीं होनी चाहिए। सभी कोरोना को ध्यान में रखते हुए तत्परता से काम करें। प्रगति के लिए एक दूसरे से हर हाल में समन्वय बनाए रखें।

बैठक में सिविल सर्जन, अपर समाहर्ता, अनुमंडल पदाधिकारी, जिला स्थापना उप समाहर्ता व विभाग के पदाधिकारी ई-मुलाकात के माध्यम से उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...