पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पूजा का आयोजन:मानव के उद्धार के लिए धरती पर आए थे प्रभु यीशु

सिमडेगा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

क्रूस विजय पर्व पर मंगलवार को पाकरटांड़ प्रखंड के काड़ामुखा तीर्थ टोंगरी में मिस्‍सा पूजा का आयोजन किया गया। मिस्‍सा पूजा मुख्य अनुष्ठाता के रूप में उपस्थित विजी फादर इग्‍नासियुस टेटे की अगुवाई में सम्‍पन्‍न हुआ।

विजी का सहयोग लचरागढ़ के डीन फा सुनील तिर्की, खंजालोया के पल्‍ली पुरोहित फा पल्‍ली फा राजेश केरकेट्टा, पास्‍टोरेत सेंटर पुरापानी के डायरेक्‍टर फा राजेश तोपनो, फा जोन कुल्‍लू, दिल्‍ली प्रोवेंस के फा विनोद बा: सहित कई पुरोहितों ने किया। अपने संदेश में विजी ने पवित्र क्रूस की महत्ता को आम विश्वासियों को बताते हुए कहा कि हमारा विश्वास क्रूस पर है। क्रूसित येशु ही हैं जो हमारे विश्वास का स्रोत है।

कुरीतियों को दूर करने के लिए समाज के लोगों को एकजुट होकर सार्थक पहल करने की है जरूरत

वहीं विधायक की पत्नी सह काथलिक महिला सभानेत्री जोसिमा खाखा ने कहा कि यीशु क्रूस पर मर कर पुनर्जीवित हुए है और सारी मानव जाति के पापों और मृत्यु पर विजय प्राप्त किया है। उन्होंने कहा कि ईश्वर अपने पुत्र को इस संसार में दोषी ठहराने नहीं बल्कि मानव जाति के पापों के उद्दार के लिए भेजा है। मौके पर प्रमुख तारसिसिया खडि़या, मुखिया शोभेन टेटे, कांग्रेस प्रखंड अध्‍यक्ष अजीत लकड़ा, शांति बाला केरकेट्टा, विमल किड़ो, जोसफा सोरेंग, सि सुषमा, काटुकोना मैनर सेमेनरी के कई ब्रदर, काथलिक सभा के अध्‍यक्ष जोन कुल्‍लू, रैमन बा: सहित भारी संख्‍या में ईसाई धर्मावलंबी उपस्थित थे।

काथलिक महिला सभानेत्री जोसिमा खाखा ने लोगों को एकजुट होकर समाज में फैल रही कुरीतियों को दूर करने के लिए सार्थक पहल करने का आह्वान किया। इससे अतिथियों के काड़ामुखा तीर्थ टोंगरी पहुंचने पर धर्मावलंबियों ने उनका भव्य स्वागत करते हुए तीर्थ टोंगरी तक पहुंचाया। जहां युवतियों द्वारा प्रभु यीशु मसीह की स्तुति प्रस्तुत की गई। कार्यक्रम में मंच का संचालन अलबर्ट दीपचंद्र केरकेट्टा ने किया।

खबरें और भी हैं...