लोग बेहाल:रेड़वा गंझूटोली में पीसीसी पथ नहीं

कामडारा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रेड़वा गांव मे कच्ची सड़क। - Dainik Bhaskar
रेड़वा गांव मे कच्ची सड़क।

आदिम जनजाति के लोगों को संरक्षित व कल्याण किये जाने के लिये राज्य सरकार के द्वारा विभिन्न प्रकार कि योजनाएं चलायी जा रही है, परंतु रेड़वा गंझूटोली मे रह रहे बिरहोर जनजाति के लोगों को गांव मे एक पीसीसी पथ बनवाने के लिये अधिकारियों से गुहार लगाते हुये थक गये परंतु आज तक पीसीसी पथ का निर्माण नहीं हो पाया है।

जानकारी के मुताबिक कामडारा प्रखंड मुख्यालय से लगभग 15 किमी की दूरी पर अवस्थित गांव रेड़वा गंझूटोली मे लगभग 60 घर अवस्थित है, जिसमें से कुल 14 परिवार बिरहोर आदिम जनजाति के लोग निवास करते हैं। ग्रामीण बुधवा बिरहोर, रंजीत बिरहोर, रामचंद्र बिरहोर और अमर बिरहोर ने बताया कि गांव की कुल आबादी लगभग तीन सौ के आसपास है। गांव के अंदर जिस रास्ते से स्कूली बच्चों का रोजाना आना-जाना होता है। वह रास्ता कच्ची होने के कारण जगह-जगह गड्ढे बन गए हैं। वहीं बारिश होने पर एक-एक फूट पानी भर जाता है और पूरी तरह से कीचड़युक्त हो जाता है। जिससे लोगों को आवागमन करने मे काफी दिक्कत होती है। गांव मे जब भी कोई उच्च अधिकारी व बीडीओ का आगमन होता है। तब-तब उक्त स्थान पर पीसीसी पथ बनवाने की मांग की जाती है।

खबरें और भी हैं...