पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ईद:जिले में सादगी से मनी बकरीद लोगों ने घरों में अदा की नमाज

सिमडेगा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मौलाना बोले- कुर्बानी देने का संदेश देता है पर्व

इद उल अज्हा का पर्व जिले में शनिवार काे सादगी के मनाई गई। कोरोना को लेकर पर्व का कोई खास रौनक नहीं देखा गया। लोगों ने अपने अपने घरों में बकरीद की नमाज अदा की। ईदगाह में ताले लटके रहे। मस्जिदों में पांच लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए नमाज अदा की। नमाज के बाद लोग कब्रिस्तानों में जाकर अपने पूर्वजों के कब्रगाहों में फातेहा पढ़े। इसके बाद अकीदतमंदों ने अल्लाह के रास्ते मे बकरे को कुर्बान किया। पर्व के मौके पर बच्चों में उत्साह देखा गया, लेकिन ईदगाह में नमाज नहीं होने से लोग मायूस दिखे, लेकिन कोरोना से लड़ने के लिए ये जरूरी भी था।

इधर बकरीद की नमाज अदा करते हुए अकीदतमंदों ने अल्लाह से कोरोना वायरस के खात्मे और विश्व मे अमन चैन कायम होने की दुआएं मांगीं। उधर पर्व के मौके पर अपने संदेश में मौलाना मिनहाज ने कहा कि कुर्बानी का पवित्र संदेश समेटे यह पर्व खुदा की इबादत का पैगाम देता है। साथ ही लाेगाें काे यह बताता है कि खुदा के दिखाए रास्ते पर चलना चाहिए और मानव सेवा में अपना सब कुछ कुर्बान कर देना चाहिए। रास्ते में आने वाले किसी भी मुश्किल से नहीं घबराना चाहिए। माैलाना ने कहा कि बकरीद पर बकरे की कुर्बानी दी जाती है। उन्होंने कहा कि हजरत इब्राहिम ने ख्वाब में अल्लाह का हुक्म आया कि कि वह अपने सबसे प्रिय चीज काे अल्लाह के रास्ते में कुर्बान करें। अल्लाह के हुक्म पर हजरत इब्राहिम अपने लख्ते जिगर बेटे हजरत इस्माइल काे कुर्बान करने के लिए ले गए।

जैसे ही उन्होंने अपने बेटे के गर्दन पर छूरी चलाया। छुरी नहीं चली और हजरत इब्राहिम अल्लाह के इम्तिहान में कामयाब हाे गए और इसके बाद अल्लाह के ओर से भेजे गए जानवर की कुर्बानी उन्होंने दी। इधर पर्व को लेकर प्रशासन की ओर से सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम किये गए थे। विभिन्न चौक चौराहों में पुलिस जवानों और दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई थी। सदर थाना प्रभारी रविंद्र कुमार सिंह के नेतृत्व में शहर में पुलिस गस्ती तेज रही। गुमला : इन मस्जिदों में नमाज पांच लोगों ने ही की शिरकत मस्जिद गौसुलवरा में हाफिज मोहम्मद सद्दाम, कादरिया मस्जिद में मौलाना कासिद रजा नईमी, मस्जिद रजा ए हबीब में कारी रमजान, मदरसा इस्लामिया फैज ए आम में मौलवी निसार कुरैशी, गौसिया मोती मस्जिद में हाफिज जाहिद आलम, जैनब मस्जिद में मौलाना शागिल, जामा मस्जिद में हाफिज मो इसहाक, मक्का मस्जिद में कारी अख्तर, मदीना मस्जिद में कारी अब्दुल रशीद, मस्जिद होदा में कारी इरसाद, मस्जिद फैजाने रजा में मौलाना असरफ अलि की इमामत में बकरीद की नमाज पढ़ी गई।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें