धरना आयोजित:तीन और अनशनकारी की हालत बिगड़ी, टंडवा में चल रहा इलाज

टंडवा17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

एनटीपीसी से मुआवजा बढ़ाने समेत तीन सूत्री मांगों को लेकर आमरण अनशन पर बैठे लोगों की स्थिति काफी बिगड़ती जा रही है। अनशन के पांचवें दिन अनशनकारी महेश महतो, निर्मल यादव तथा मुकेश यादव के बिगड़ते स्वास्थ को देखते हुए सामुदायिक स्वास्थ केंद्र मे भर्ती कराया। जहां सभी का स्वास्थ जांच कर स्लाइन की जा रही है। सभी अनशनकारी ठीक से नहीं बाेल पा रहे हैं। जबकि तीसरे ही दिन अनशनकारी तिलेश्वर साव व किरण शाहा की तबियत बिगड़ गई थी। जो फिलहाल स्वास्थ लाभ में हैं।

अनशन के पांचवें दिन तीन और अनशनकारी के तबियत बिगड़ते ही धरने पर बैठे आंदोलनकारियों अस्पताल पहुंचते ही एनटीपीसी के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। अनशनकारियों के बिगड़ते स्वास्थ को देखते हुए आंदोलित महिलाओं ने सड़क पर उतर कर एक बार फिर प्लांट को बंद करा दिया। सड़क पर उतरी आंदोलनकारी महिलाओं व पुरुषों ने प्लांट के अंदर जाने पर रोक लगा दिया। वहीं एसएनसी कंपनी मे पेटी कॉंट्रेक्ट मे काम करने वाले शफीक अंसारी ने आंदोलनकारियों के समर्थन में काम करने से इंकार कर दिया।

उल्लेखनीय है कि विस्थापित विकास समिति के बैनर तले आयोजित धरना लगातार 270वें दिन जारी है। अनशनकारी तिलेश्वर साहू ने कहा कि जब तक हमारी तीन सूत्री मांगें पूरी नहीं होती है तब तक हमारा अनिश्चितकालीन अनशन के लिए जारी रहेगा। मौके पर संयोजक कृष्णा साहू, किरण देवी, उषा खातून, रूबी देवी, राजेंद्र राम ,कामेश्वर यादव, निसार अहमद ,मनीर आलम, प्रकाश पासवान आदि सैकड़ों की संख्या में भू-रैयत उपस्थित थे। सिमरिया एसडीअाे सुधीर कुमार दास गुरुवार को सामुदायिक स्वास्थ केंद्र पहुंच कर इलाजरत अनशनकारियों से मुलाकात किया।

खबरें और भी हैं...