विद्युतीकरण एजेंसी:फर्जी मोहर और हस्ताक्षर से काम दिखाया पूरा, दर्ज कराया मामला

ठेठईटांगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विद्युतीकरण एजेंसी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने पहुंचे मुखिया। - Dainik Bhaskar
विद्युतीकरण एजेंसी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने पहुंचे मुखिया।

ठेठईटांगर के केरिया पंचायत में विद्युतीकरण कर रही एजेंसी पर क्षेत्र के मुखिया ने गंभीर आरोप लगाया है। मुखिया शिवराज बड़ाईक ने एजेंसी पर फर्जी मोहर और हस्ताक्षर का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। मुखिया शिवराज बड़ाईक ने प्राथमिकी में कहा है कि मुखिया का जाली हस्ताक्षर करके केरिया में विद्युतीकरण का काम पूर्ण दिखाया गया है।

आवेदन में मुखिया शिवराज ने कहा कि केरिया पंचायत के कार्यरत बिजली विभाग के द्वारा करीब 1 वर्ष पहले केरिया पंचायत में ग्रामीण विद्युतीकरण के तहत ग्राम पंचायत के लिए के पंगिन पहाड़ में लगभग से 30 से 35 घरों में तथा केरिया के घाट तरी में 30 घरों में झरियादीपा में विद्युतीकरण का कार्य नहीं किया गया है। जबकि रचा कोना में भी 40 से 45 घरों में देव बाहर में 30 से 35 घरों में इस तरह से एक लिखित बनाकर जिला को सौंप दिया गया है।

लगभग 100 घरों में कनेक्शन नहीं किया गया है। इस तरह से मुखिया शिवराज बड़ाइक ने ऐसे गांव टोला में घूम कर देखा जो कई घरों में कनेक्शन नहीं है फिर भी वहां विद्युतीकरण कार्य पूर्ण रूप से कर दिया गया है। सर्वे के बाद पता चला कि यह सब फर्जी कार्य किया गया है जो विद्युतीकरण के नाम पर कार्य नहीं किया गया है। थाना प्रभारी इंद्रेश कुमार को एक आवेदन देकर शिवराज बड़ाइक ने उन लोगों के विरुद्ध कार्रवाई करने तथा अनुसंधान करने की अपील की है।

थाना प्रभारी कुमार इंद्रेश ने कहा कि अनुसंधान जारी है अभी सुपरवाइजर और कुछ कार्य करने वालों के विरुद्ध आवेदन आया है। जिस पर जांच पड़ताल किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...