हिंसा के खिलाफ आवाज उठाएं महिलाएं:महिला हिंसा के उन्मूलन को लेकर आंगनबाड़ी कर्मियों को किया जागरूक

सिमडेगा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कार्यक्रम में भाग लेते लाेग। - Dainik Bhaskar
कार्यक्रम में भाग लेते लाेग।

सदर प्रखंड कार्यालय सभागार में मंगलवार काे आंगनबाड़ी सेविकाओं को महिला हिंसा के उन्मूलन के वैश्विक 16 दिवसीय अभियान के तहत डायन कुप्रथा और यौनिक हिंसा के बारे में एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया। इस प्रशिक्षण में 135 से भी ज्यादा आंगनबाड़ी बहनों ने भाग लिया। इसका संचालन सखुआ की एडिटर मोनिका मरांडी और नेशनल कौंसिल फाॅर वूमेन लीडर्स की अगुस्टीना सोरेंग ने किया।

इस प्रशिक्षण में महिलाओं को हिंसा से पीड़ित महिलाओं के कानूनी अधिकारों के बारे विस्तार से बताया गया। साथ ही महिला हिंसा के खिलाफ वैश्विक 16 दिवसीय अभियान के बारे भी जानकारी दी गई। महिलाओं को सुरक्षित और हिंसामुक्त वातावरण दिलाने के लिए यह अभियान अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर 25 नवंबर से 10 दिसंबर तक चलाया जाता है।

जिससे कि समाज को महिलाओं के लिए गरिमापूर्ण वातावरण बनाने के लिए जागरुक किया जा सके और महिलाओं को हिंसा के खिलाफ आवाज उठाने के लिए प्रेरित कर सकें तथा महिलाओं के लिए बने कानूनों को और जवाबदेह बनाने के लिए सभी मिलकर काम कर सकें।

समाज को महिलाओं को बराबर मनाने और सम्मान देने के लिए उत्प्रेरित करना इस अभियान का उद्देश्य है। कार्यक्रम में मुख्य तौर पर महिला पर्यवेक्षिका विजयालक्ष्मी कुमारी, तारामती देवी, अंजलि कुमारी, मेरी भैलेट बाः, मनीष मिंज और आंगनबाड़ी सेविकाएं उपस्थित थीं।

खबरें और भी हैं...