पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टीकाकरण का नया तरीका:अब कार में बैठे-बैठे लगेगी कोरोना की वैक्सीन, मुंबई में शुरू हुआ ड्राइव इन वैक्सीनेशन सेंटर

मुंबई13 दिन पहले
यह फिलहाल ट्रायल के लिए एक सोसाइटी में शुरू हुआ है और आने वाले समय में इसे पूरी मुंबई में शुरू किया जाएगा।

मुंबई के दादर स्थित कोहिनूर सोसाइटी की पार्किंग में देश का पहला 'ड्राइव इन' कोरोना वैक्सीन केंद्र शुरू हुआ है। इस केंद्र की शुरुआत बृहनमुंबई महानगर पालिका (BMC) की और की गई है। इस टीकाकरण केंद्र पर लोगों को सिर्फ अपनी गाड़ी से आना है और उन्हें कार में बैठे-बैठे ही वैक्सीन लगा दी जाएगी। जिनके पास कार या गाड़ी नहीं है उनके लिए शिवसेना की ओर से गाड़ी मुहैया करवाई जाएगी। यह गाड़ी टीका लगवाने वाले को घर तक छोड़ कर आएगी। BMC की ओर से यह नया प्रयास संक्रमण को रोकने के लिए किया गया है।

जिनके पास कार नहीं होगी उनके लिए शिवसेना कार का इंतजाम करेगी।
जिनके पास कार नहीं होगी उनके लिए शिवसेना कार का इंतजाम करेगी।

पहले पूरी मुंबई में और फिर पूरे राज्य में किया जाएगा यह प्रयोग
राहुल शेवाले ने बताया कि अगर यह प्रयोग सफल रहा तो आने वाले दिनों में पहले मुंबई की सभी पार्किंग में और फिर पूरे राज्य में इस तरह का 'ड्राइव इन वैक्सीनेशन सेंटर' बनाया जाएगा।

यह बुजुर्गों और दिव्यांगों के लिए फायदेमंद

जी/नॉर्थ वार्ड के सहायक आयुक्त किरण दिघावकर ने बताया, "हमारे सात बूथों पर प्रतिदिन 5,000 लगों को टीका लगाने की क्षमता है। इनमें से दो बूथ ड्राइव-इन के लिए रखे गए हैं। इसमें से आज पहला बूथ शुरू किया गया है।" उन्होंने कहा कि पार्किंग बूथ में 60 से 70 वाहनों के लिए पर्याप्त जगह है। यहां एक रजिस्ट्रेशन स्टॉल भी जल्द लगाया जाएगा। यह बुजुर्गों और दिव्यांगों के लिए फायदेमंद होगी।

मुंबई में 8 लाख 64 हजार लोगों का हुआ टीकाकरण
फिलहाल मुंबई और महाराष्ट्र के वैक्सीनेशन सेंटर्स वैक्सीन की किल्लत से जूझ रहे हैं। लोगों को टीकाकरण केंद्रों खाली हाथ लौटना पड़ रहा है। मुंबई में अब तक 18 से 44 के 2394 लोगों का वैक्सीनेशन हुआ है, जबकि 45 + के 8 लाख 62 हजार लोग टीका लगवा चुके हैं।

9 करोड़ लोगों में से महज 1.63 करोड़ को लगा टीका

राज्य स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, महाराष्ट्र में 9 करोड़ से ज्यादा की जनसंख्या 18 साल से ऊपर की है और टीकाकरण के लिए एलिजिबल है। जिसमें से सिर्फ 1.63 करोड़ लोगों का ही टीकाकरण हो पाया है। इसके पीछे टीके की कमी सबसे बड़ी वजह है। राज्य स्वास्थ्य विभाग के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि 45+ लोगों के लिए 15 मई तक 23.27 लाख वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी। अगर हमने वैक्सीनेशन की गति तेज नहीं की तो जब लोग नौकरी या अन्य कामों के लिए बाहर निकलेंगे तो इससे कोविड-19 की तीसरी लहर आ सकती है।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय अनुसार अपने प्रयासों को अंजाम देते रहें। उचित परिणाम हासिल होंगे। युवा वर्ग अपने लक्ष्य के प्रति ध्यान केंद्रित रखें। समय अनुकूल है इसका भरपूर सदुपयोग करें। कुछ समय अध्यात्म में व्यतीत कर...

और पढ़ें