मुंबई की निर्भया की हत्या और रेप का मामला:आरोपी ने कबूल किया अपना गुनाह, वारदात में इस्तेमाल हथियार भी बरामद; सरकार ने पीड़िता की बेटी को 20 लाख रुपए देने का किया ऐलान

मुंबई3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नागराले के मुताबिक, पीड़िता एक विशेष समुदाय से थी, इसलिए इस मामले में एट्रोसिटी एक्ट की धाराएं भी लगाईं गई है। - Dainik Bhaskar
नागराले के मुताबिक, पीड़िता एक विशेष समुदाय से थी, इसलिए इस मामले में एट्रोसिटी एक्ट की धाराएं भी लगाईं गई है।

मुंबई के साकीनाका इलाके में 10 सितंबर की रात 3 बजे एक महिला संग निर्भया की तरह हुई जघन्य वारदात के आरोपी ने आखिरकार पुलिस कस्टडी के दौरान अपना गुनाह कबूल कर लिया है। यह जानकारी सोमवार को मुंबई के पुलिस कमिश्नर हेमंत नागराले ने दी है। कमिश्नर नागराले ने बताया कि पीड़िता के परिवार को राहत देते हुए CM राहत कोष से 20 लाख रुपए पीड़िता की बेटी को दिया जाएगा। नागराले के मुताबिक, पीड़िता एक विशेष समुदाय से थी, इसलिए इस मामले में एट्रोसिटी एक्ट की धाराएं भी लगाईं गई है।

सोमवार को पुलिस आयुक्त ने कहा, "इस मामले में सोशल मीडिया में गलत जानकारी फैलाई जा रही है। इसलिए मैं इस मामले की सच्चाई आपने सामने लेकर आया हूं। पीड़ित एक खास समुदाय से है, इसलिए इस अपराध के लिए हमने एससी एसटी अधिनियम(एट्रोसिटी एक्ट) की धाराएं भी इसमें जोड़ीं हैं। अब मामले कीजांच भी इसी आधार पर की जाएगी। आरोपी 21 सितंबर तक पुलिस कस्टडी में है और हमने उसकी निशानदेही पर वारदात में इस्तेमाल हथियार बरामद कर लिया है।"

पीड़िता को पहले से जानता था आरोपी
मुंबई पुलिस आयुक्त ने सोमवार को बताया कि जांच में सामने आया है कि आरोपी और पीड़िता एक दूसरे को जानते थे। पीड़िता आरोपी से कुछ मांग रही थी, इसी दौरान दोनों में बहस हुई और इसके बाद नाराज होकर आरोपी ने उस पर हमला किया। जांच में यह भी सामने आया है कि आरोपी ने कुछ नशा किया हुआ था।

अधिवक्ता राजा ठाकरे अदालत में करेंगे मामले की पैरवी
लिस आयुक्त ने आगे बताया कि पीड़ित महिला कब मौके पर आई, आरोपी कब आया, कैसे वारदात हुई, उसके बाद आरोपी कैसे फरार हो गया, इसकी जानकारी हमें मिल गई है। इस मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए राज्य सकरार की ओर से विशेष अधिवक्ता राजा ठाकरे को नियुक्त किया गया है।

मुंबई पुलिस के काम की हो रही है तारीफ
नागराले ने आगे बताया,"राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष ने घटनास्थल का दौरा किया है। आज दोपहर 1.30 बजे मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, गृह मंत्री दिलीप वलसे पाटिल, स्थानीय विधायक, मुख्य सचिव, अतिरिक्त उप सचिव और अन्य अधिकारियों ने सह्याद्री गेस्ट हाउस में इस मुद्दे पर चर्चा की और सभी की ओर से पुलिस की जांच की तारीफ हो रही है।'

विलेपार्ले में भी एक शख्स ने की अपनी सास संग क्रूरता
इस घटना को अभी दो दिन भी नहीं हुए थे कि मुंबई के विलेपार्ले इलाके में एक शख्स ने अपनी सास के सिर पर टाइल्स और चाकू से ताबड़तोड़ वार किए और उसे मौत के घाट उतार दिया। इतना ही नहीं, आरोपी ने महिला के प्राइवेट पार्ट पर बांस से हमला कर दिया था। इस हमले में सास की मौत हो गई। वारदात के बाद आरोपी को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है और वह 14 सितंबर तक पुलिस कस्टडी में है।

आरोपी एक चेन स्नैचिंग के मामले में तीन साल जेल में बंद था। वह हाल में यरवडा जेल से छूटा था। अपनी पत्नी से मिलने के लिए वह विले पारले पूर्व में सास के घर गया था। जहां उसे पता चला कि पत्नी ने दूसरी शादी कर ली है और उन्हें एक बच्चा भी है। इसी बात से नाराज शख्स ने सास की हत्या कर दी।

खबरें और भी हैं...