मां ने बेटे साथ मिलकर गर्भवती बेटी को मारा:लव मैरिज से नाराज थे मायके वाले, हत्या के बाद भाई ने काटा सिर

मुंबई8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बेटी की लव मैरिज से नाराज एक मां ने अपने बेटे के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी। मामला महाराष्ट्र के औरंगाबाद का है। वैजापुर तहसील निवासी शोभा (40) और संकेच मोटे (18) ने शनिवार को इस वारदात को अंजाम दिया। हत्या करने के बाद आरोपी युवक ने सरेंडर कर दिया। उसकी मां को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

हत्या के बाद सिर किया धड़ से अलग

कीर्ति थोरे की हत्या के वक्त उसका पति अविनाश बीमार था और लेटा हुआ था। दोनों आरोपियों ने मिलकर 19 साल की कीर्ति की धारदार हथियार (कोयते) से हत्या की है। आरोपी संकेत बहन से इतना नाराज था कि उसने बहन को जान से मारने के बाद सिर धड़ से अलग किया।

घर से भागकर की थी कोर्ट मैरिज

लाड़गांव शिवार में 302 बस्ती में रहने वाले संजय थोरे के लड़के अविनाश ने कीर्ति के साथ घर से भागकर आलंदी में प्रेम विवाह किया था। कोर्ट मैरिज कर दोनों खेत बस्ती गोयगांव में रहने लगे थे। कीर्ति के परिजन शादी से खुश नहीं थे। फिर भी लड़की के भाई व मां उसके घर आने-जाने लगे।

साजिशन बेटी के घर जाना शुरू किया था मां-बाप ने

पुलिस ने आगे बताया कि शुरू में लोगों को लगा कि विवाह को सबकी मंजूरी मिल गई है। मगर, मायकेवालों के मन में कुछ और ही चल रहा था। रविवार को भाई व उसकी मां कीर्ति से मिलने पहुंचे। तब घर के लोग खेत में काम पर गए थे। घर पर कीर्ति व उसका पति अविनाश ही थे। अविनाश की तबियत खराब होने के चलते वह लेटा था। तभी कीर्ति चाय बनाने जैसे ही किचन में गई, पीछे से मां शोभा व भाई संकेत भी गए। किचन में संकेत ने कोयते से कीर्ति की गर्दन पर तब तक वार किया, जब तक उसका सिर धड़ से अलग नहीं हो गया।

अविनाश ने देखा कीर्ति का कटा हुआ सिर

जब लड़की के पति को सामान गिरने की कुछ आवाज आई तो वह दौड़ कर किचन में पहुंचा, जहां कीर्ति का शव दो हिसों में फर्श पर पड़ा हुआ था। इससे पहले की अविनाश आरोपी को पकड़ पाता आरोपी कोयता लहराता हुआ मौके से फरार हो गया। इसके बाद वह पुलिस स्टेशन पहुंचा और सरेंडर कर दिया। पति के चिल्लाने की आवाज सुन पड़ोसियों को मामले की जानकारी हुई और पुलिस को इन्फॉर्म किया गया।

खबरें और भी हैं...