पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • A Pune based Startup Made A Unique Mask: Coronavirus Will Die As Soon As It Comes In Contact, Its Cost Is Only 80 Rupees

पुणे के एक स्टार्टअप ने बनाया अनूठा मास्क:इसके संपर्क में आते ही मर जाएगा कोरोनावायरस, सिर्फ 80 रुपए है इसकी कीमत

पुणे2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इस मास्क पर एक स्पेशल लेप लगाया गया है, जिसके संपर्क में आते ही वायरस डेड हो जाएगा। - Dainik Bhaskar
इस मास्क पर एक स्पेशल लेप लगाया गया है, जिसके संपर्क में आते ही वायरस डेड हो जाएगा।

पुणे में एक स्टार्टअप कंपनी ने थ्रीडी प्रिंटिंग तकनीक के जरिए एक विशेष किस्म का मास्क बनाया है। एक दवा कंपनी के सहियोग से बने इस मास्क को लेकर दावा किया जा रहा है कि बाहर से जैसे ही कोई वायरस इसके संपर्क में आएगा, वह मर जाएगा। मास्क बनाने वाली कंपनी 'थिंकर टेक्नोलॉजी' का कहना है कि इसमें वायरस को मारने के लिए एक विशेष लेप की कोटिंग की गई है। इससे सार्क-कोवि-2 यानी कोरोना वायरस तुरंत समाप्त हो जाता है।

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) द्वारा सोमवार को मास्क जारी किया गया। थिंकर टेक्नोलॉजी के डायरेक्टर शीतल झुंबाड ने बताया कि यह लेप मानव उपयोग के लिए सुरक्षित है क्योंकि इसमें प्रयुक्त सामग्री का उपयोग साबुन और साधारण कॉस्मेटिक में किया जाता है। इस लेप में सोडियम ओलेफिन सल्फोनेट जैसे केमिकल का उपयोग किया गया है। इस लेप के संपर्क में आने पर कोरोना वायरस का बाहरी आवरण नष्ट हो जाता है। इसे सामान्य तापमान पर आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है।

ऐसे आया मास्क बनाने का आइडिया
शीतल ने आगे कहा कि कोरोना काल में मास्क का उपयोग बहुत महत्वपूर्ण था, लेकिन आम जनता घरेलू मास्क का अधिक से अधिक उपयोग कर रही थी। इन मास्क की गुणवत्ता में गिरावट आ रही थी। इसलिए अच्छी क्वालिटी का मास्क जरूरी था। यहीं से इस मास्क का आइडिया आया। शीतल के मुताबिक, फिलहाल नंदुरबार, नासिक और बैंगलोर के 4 सरकारी अस्पतालों के स्वास्थ्य कर्मियों को एक एनजीओ द्वारा लगभग 6000 मास्क वितरित किए गए हैं। बैंगलोर में लड़कियों के स्कूलों और कॉलेजों में भी मास्क वितरित किए गए हैं।

3D प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी के माध्यम से इसका निर्माण किया जा रहा है।
3D प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी के माध्यम से इसका निर्माण किया जा रहा है।

95% इफेक्टिव है यह मास्क
3डी प्रिंटिंग तकनीक के माध्यम से N 95 मास्क, थ्री प्ले मास्क यहां तक कि एक साधारण कपड़े के मास्क पर इस लेप का इस्तेमाल कर उसे 95% से अधिक प्रभावी बना दिया जाता है। शीतल ने बताया कि अगले सप्ताह से यह मास्क 80 रूपये में आम लोगो के लिए उपलब्ध होगा। शीतल के मुताबिक, इसके निर्माण में वे कंपनी की सभी गाइडलाइनों को फॉलो कर रहे हैं।

कंपनी ने पेटेंट के लिए किया आवेदन
स्टार्ट-अप ने एंटी-वायरल मास्क का उत्पादन शुरू कर दिया है। इसके अलावा, थिंकर टेक्नोलॉजीज इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने इस उत्पाद के पेटेंट के लिए आवेदन भी किया है। इसमें जिन चीजों का इस्तेमाल किया गया है वह दैनिक कॉस्मेटिक निर्माण में इस्तेमाल होने वाली चीजें हैं, इसलिए इनकी उपलब्धता के बारे में चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

इस मास्क की कीमत सिर्फ 80 रुपए है।
इस मास्क की कीमत सिर्फ 80 रुपए है।

टीडीबी ने इस प्रोजेक्ट के लिए किया फाइनेंस
मास्क निर्माण परियोजना को प्रौद्योगिकी विभाग बोर्ड (टीडीबी) द्वारा फाइनेंस किया गया है, जो विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के तहत संचालित होता है। यह फंडिंग केंद्र द्वारा कोरोना से निपटने का रास्ता खोजने के लिए चलाए गए अभियान का हिस्सा है। टीडीबी ने पुणे में कंपनी को मास्क के निर्माण का एक बड़ा ऑर्डर दिया है। मास्क का निर्माण मार्क लाइफ साइंस के सहयोग से किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...