पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • A Rat Munched On The Patient's Eye Admitted To The ICU Of The Government Hospital In Mumbai, BMC Said It Is Rain

इससे बड़ी लापरवाही नहीं हो सकती:मुंबई के सरकारी हॉस्पिटल के ICU में भर्ती मरीज की आंख कुतर गया चूहा, इलाज के दौरान मौत हुई

मुंबई3 महीने पहले
डॉक्टर के मुताबिक, चूहे ने मरीज की आंख की पलक के नीचे कुतरा था और उसकी आंख को कोई नुकसान नहीं हुआ था।

कोरोना महामारी के बीच बृहन्मुंबई महानगरपालिका(BMC) के राजावाड़ी हॉस्पिटल से बेहद डराने वाली तस्वीरें सामने आईं हैं। यहां आईसीयू में वेंटिलेटर पर पड़े मरीज की आंख चूहे ने कुतर डाली थी। बुधवार को उस शख्स ने इलाज के दौरान हॉस्पिटल में दम तोड़ दिया है।

इस घटना की जानकारी सामने आने के बाद मुंबई की मेयर किशोरी पेडणेकर ने पूरे मामले की जांच के आदेश के साथ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि बारिश की वजह से चूहे दरवाजे के गैप से अंदर आ जाते हैं।

मरीज को सांस लेने में तकलीफ थी
जानकारी के मुताबिक, कुर्ला के कमानी इलाके में रहने वाले 24 वर्षीय श्रीनिवास यल्लपा को सांसों की तकलीफ के बाद रविवार को राजावाड़ी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। डॉक्टर्स के मुताबिक, उनके सिर पर बुखार भी चढ़ गया था और किडनी में भी दर्द था। इसे देखते हुए श्रीनिवास को ICU में भर्ती किया गया।

रिश्तेदारों को ऐसे पता चला
यह घटना मंगलवार तड़के तीन बजे के करीब हुई है। सुबह जब श्रीनिवास के रिश्तेदारों ने उनकी एक आंख से खून बहता हुआ देखा तो तुरंत उन्होंने इस बारे में अस्पताल प्रशासन को बताया। जब आंख की जांच की गई तो चूहे द्वारा आंख कुतरे जाने की जानकारी सामने आई। इसके बाद मरीज के परिजनों ने हॉस्पिटल में हंगामा भी किया था।

कुतरे जाने के बावजूद बची मरीज की आंख
जब आंख कुतरे जाने के बाद डॉक्टरों ने जांच की तो पाया कि आंख बच गई है। चूहे ने आंख की पलक के नीचे कुतरा था। आंख के अंदर कोई चोट नहीं आई है।

फिलहाल मरीज की हालत गंभीर बनी हुई है और उसे अभी भी वेंटीलेटर पर रखा गया है।
फिलहाल मरीज की हालत गंभीर बनी हुई है और उसे अभी भी वेंटीलेटर पर रखा गया है।

चूहे मिलने पर BMC का तर्क
इस घटना पर BMC की मेयर किशोरी पेडणेकर ने कहा कि अस्पताल का आईसीयू विभाग निचली मंजिल पर होने के बावजूद अस्पताल चारों तरफ से बंद है। बरसात की वजह से शायद दरवाजे के बीच के गैप से शायद चूहा अंदर आ गया हो, लेकिन ऐसी घटनाएं बार-बार ना हो, इसका उपाय जरूर करेंगे। बीएमसी के अतिरिक्त आयुक्त सुरेश काकाणी ने भी जांच के आदेश दिए हैं।

चार साल पहले आया था ऐसा ही मामला
चार साल पहले कांदिवली इलाके के शताब्दी अस्पताल में इसी तरह की घटना सामने आई थी। यहां भी कोमा में चल रहे एक मरीज की आंख चूहे कुतर गए थे।

खबरें और भी हैं...