पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • After Her Sister's Rape Charge, Live in Partner Files Complaint Against Maharashtra Minister Dhananjay Munde

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फिर विवादों में महाराष्ट्र के मंत्री धनंजय मुंडे:लिव इन पार्टनर रही महिला ने कहा- मुंडे रोज दारू पीते हैं, मेरे दो बच्चों को एक बंगले में तीन महीने से कैद कर रखा है

मुंबई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुंडे की लिव इन पार्टनर रही महिला की बहन ने भी धनंजय मुंडे पर पर पहले यौन शोषण का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी। हालांकि बाद में उन्होंने अपनी शिकायत वापस ले ली थी। - Dainik Bhaskar
मुंडे की लिव इन पार्टनर रही महिला की बहन ने भी धनंजय मुंडे पर पर पहले यौन शोषण का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी। हालांकि बाद में उन्होंने अपनी शिकायत वापस ले ली थी।

महाराष्ट्र के सामाजिक न्याय मंत्री धनंजय मुंडे फिर विवादों में फंसते नजर आ रहे हैं। सोशल मीडिया में लिखे एक पोस्ट में मुंडे ने जिस महिला के साथ अपने दो बच्चे होने की बात स्वीकार की थी, अब उसी महिला ने मुंडे पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। महिला ने पुलिस कमिश्नर को दी गई लिखित शिकायत में कहा है कि मुंडे ने उनके बच्चों को तीन महीने से कैद कर रखा है।

मुंडे की लिव-इन पार्टनर करुणा शर्मा ने पुलिस महानिदेशक हेमंत नगराले को दी गई शिकायत में आरोप लगाया है कि मुंडे ने उनके दो बच्चों को अपने बंगले 'चित्रकूट' में 3 महीने से 'कैद' कर रखा है। उन्होंने दावा किया कि जब वह 24 जनवरी को बच्चों से मिलने गईं तो पुलिसकर्मियों की बड़ी टीम ने उन्हें बंगले में प्रवेश करने से रोक दिया।

20 फरवरी से अनशन पर बैठने की धमकी दी
करुणा ने कहा, 'धनंजय मुंड के चित्रकूट बंगले पर मेरे बच्चे सुरक्षित नहीं हैं। मेरी छोटी बेटी 14 साल की है और बंगले पर कोई महिला केयरटेकर भी नहीं है। धनंजय मुंडे का चाल-चलन अच्छा नहीं है। वह रोज दारू पीते हैं। दोनों बच्चों को मेरे खिलाफ भड़काते हैं इसलिए बच्चों के साथ कुछ भी हुआ तो उसके लिए धनंजय मुंडे जिम्मेदार होंगे। उन्होंने कहा कि मुझे मेरे बच्चों से मिलने दिया जाए नहीं तो मैं 20 फरवरी 2021 से आमरण अनशन पर बैठूंगी।'

अदालत में विवाद सुलझाने का दिया था हलफनामा
महिला ने शिकायत में आगे कहा, 'मुझे आमरण अनशन पर चित्रकूट बंगले के सामने, मंत्रालय के सामने या फिर आजाद मैदान में बैठने की अनुमति दी जाए और उनके (मुंडे) खिलाफ कानूनी कार्रवाई के लिए मेरी आपसे विनती है।' इससे पहले धनंजय मुंडे और उनकी लिव इन पार्टरन रही महिला ने बंबई हाईकोर्ट को सूचित किया था कि उन्होंने एक मध्यस्थ के जरिए आपसी विवाद सुलझाने का फैसला किया है।

अदालत से मुंडे को मिली थी यह राहत
मुंडे ने दिसंबर में हाई कोर्ट में मानहानि का एक मुकदमा दर्ज कर अनुरोध किया था कि महिला को उसके सोशल मीडिया अकाउंट पर उनकी निजी तस्वीरें एवं वीडियो पोस्ट करने से रोकने का आदेश दिया जाए। अदालत ने 16 दिसंबर को दिए अंतरिम आदेश में महिला को निर्देश दिया था कि वह अगले आदेश आने तक मुंडे की कोई निजी तस्वीर या वीडियो अपने सोशल मीडिया खातों पर अपलोड न करे।

मुंडे की प्रतिक्रिया
इस पूरे घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया देते हुए 45 वर्षीय मुंडे ने करुणा शर्मा के आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि उनके बीच के मुद्दे अदालत में मध्यस्थता की प्रक्रिया के तहत चल रहे हैं। ये सभी आरोप निराधार हैं। मुझे बदनाम करने का उनका इरादा है। अदालत द्वारा एक मध्यस्थ भी नियुक्त किया गया है। मुंडे ने कहा कि ऐसा लगता है कि कानूनी प्रक्रिया के माध्यम से आरोपी महिला की मध्यस्थता में कोई दिलचस्पी नहीं है। उनका मकसद मीडिया ट्रायल करना और मुझे बदनाम करना है।

करुणा की बहन ने भी मुंडे पर लगाया था आरोप
इससे पहले करुणा शर्मा की बहन ने धनंजय मुंडे पर पर पहले यौन शोषण का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी और बाद में उन्होंने अपनी शिकायत वापस लेते हुए मुंडे को क्लीन चिट दे दी थी। इसी दौरान एनसीपी नेता ने स्वीकार किया था कि आरोप लगाने वाली महिला की बड़ी बहन से उनके संबंध रहे हैं।

भाजपा ने भी साधा मुंडे पर निशाना
उधर, इस मुद्दे पर बीजेपी नेता किरीट सोमैया ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर कहा कि अब एनसीपी प्रमुख शरद पवार को इसे देखना चाहिए। मालूम हो कि धनंजय मुंडे एनसीपी के नेता हैं और एनसीपी कोटे से ही महाराष्ट्र सरकार में मंत्री भी हैं।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

और पढ़ें