क्रूज रेव पार्टी में महाराष्ट्र के मंत्री का आरोप:नवाब मलिक बोले- आर्यन के साथ सेल्फी लेने वाला प्राइवेट डिटेक्टिव, अरबाज को घसीटने वाला भाजपा नेता; NCB का जवाब- वे हमारे गवाह

मुंबई2 महीने पहलेलेखक: विनोद यादव

महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक ने क्रूज रेव पार्टी को लेकर बुधवार को बड़ा आरोप लगाया। मलिक ने रेड के दौरान सामने आए वीडियो और फोटो का हवाला देते हुए कहा कि शाहरुख खान के बेटे आर्यन के साथ सेल्फी लेने वाला शख्स केपी गोसावी खुद को प्राइवेट डिटेक्टिव कहता है। वहीं, आर्यन के दोस्त और अरबाज को घसीटकर NCB ऑफिस ले जाने वाला शख्स मनीष भानुशाली भाजपा का पदाधिकारी है।

इन आरोपों के बाद NCB के अफसर सामने आए। उन्होंने गोसावी और भानुशाली को अपना गवाह बताया। NCB ने कहा कि कानून के मुताबिक सिर्फ गोसावी और भानुशाली ही नहीं, बल्कि 10 बाहरी लोगों की क्रूज पर रेड के दौरान मदद ली गई थी। ये सभी जांच एजेंसी के गवाह हैं।

समीर वानखेड़े बोले- गोसावी और भानुशाली हमारे विटनेस
NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने कहा कि जांच एजेंसी की कार्रवाई और 2 लोगों (केपी गोसावी और मनीष भानुशाली) को लेकर जो राजनीतिक आरोप लग रहे हैं उस पर नार्कोटिक्स DDG ने सफाई दी है। वो लोग विटनेस हैं। वे किस प्रोसीजर के तहत साथ थें, सब बताया है। मेरा ज्यादा बोलना ठीक नही होगा।

क्रूज ड्रग पार्टी मामले में कुल 16 आरोपी गिरफ्तार हैं। एक और गिरफ्तारी हुई है जिसे गुरुवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा। बाकी जिन आरोपियों को कोर्ट में पेश करेंगे उनकी भी कस्टडी मांगी जाएगी या नहीं इसके बारे में भी मैं अभी कुछ बता नही पाऊंगा। हमारी जांच जारी है। जो विदेशी नागरिक हिरासत में लिया गया है उसके बारे में भी गुरुवार को ही बताएंगे।

मलिक ने कहा- गोसावी फ्रॉड है, पुणे में दर्ज है केस
नवाब मलिक ने बुधवार को महाराष्ट्र एनसीपी कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। इसी में उन्होंने दावा किया आर्यन के साथ सेल्फी लेने वाला केपी गोसावी एक फ्रॉड व्यक्ति है और खुद को प्राइवेट डिटेक्टिव बताता है। जबकि उसके खिलाफ पुणे में फर्जीवाड़े का केस दर्ज है।

आर्यन के साथ सेल्फी लेने वाला केपी गोसावी (बाएं), जिसे नवाब मलिक ने फ्रॉड कहा।
आर्यन के साथ सेल्फी लेने वाला केपी गोसावी (बाएं), जिसे नवाब मलिक ने फ्रॉड कहा।

जानकारी के मुताबिक, किरण गोसावी केपीजी ड्रीम्स नाम की कंपनी के मालिक हैं। इस कंपनी के मुंबई और नवी मुंबई में ऑफिस हैं। गोसावी एक निजी जासूस के तौर पर काम करता है और महाराष्ट्र के कई सीनियर ऑफिसर्स के साथ उसके संबंध हैं। मलिक ने सवाल उठाया है कि गोसावी उस रात NCB ऑफिस में आरोपियों के साथ क्या कर रहा था।

कौन हैं मनीष भानुशाली, जिन पर मलिक ने आरोप लगाए
नवाब मलिक ने रेड के दौरान मौजूद दूसरे व्यक्ति मनीष भानुशाली पर सवाल उठाते हुए कहा- आर्यन के दोस्त अरबाज को घसीटकर NCB ऑफिस ले जाने वाला शख्स मनीष भानुशाली है, वह भाजपा पदाधिकारी है। मलिक ने दावा किया, 'मनीष भानुशाली 21 सितंबर को दिल्ली में एक केंद्रीय मंत्री के साथ था। 22 सितंबर को वह गांधीनगर में भाजपा के एक मंत्री के साथ था। उन्होंने भानुशाली के सोशल मीडिया प्रोफाइल का हवाला देते हुए कहा कि वह खुद को भाजपा का उपाध्यक्ष बताता है।'

अरबाज को NCB ऑफिस ले जाते समय उनके साथ मौजूद मनीष भानुशाली (बाएं- लाल शर्ट में)
अरबाज को NCB ऑफिस ले जाते समय उनके साथ मौजूद मनीष भानुशाली (बाएं- लाल शर्ट में)

मनीष भानुशाली मुंबई के डोंबिवली में रहते हैं। वह एक व्यापारी और भाजपा कार्यकर्ता हैं। 2012 तक मनीष भाजपा के कल्याण जिला उपाध्यक्ष थे। हालांकि उन्होंने तब से कोई पद नहीं संभाला है, लेकिन बताया जाता है कि अब भी वे एक सक्रिय भाजपा कार्यकर्ता हैं। फेसबुक पर बड़े भाजपा के नेताओं के साथ उनके फोटो मौजूद हैं। मनीष ज्यादातर समय दिल्ली में बिताते हैं।

भाजपा के कई बड़े नेताओं के साथ मनीष की तस्वीरें
नवाब मलिक ने कहा कि मनीष भानुशाली की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस के साथ तस्वीरें मौजूद हैं। उन्होंने पूछा कि आखिर ऐसा कैसा हो सकता है कि भाजपा का एक नेता आर्यन खान को घसीटकर अपने साथ ले जा रहा है। इस बात का जवाब NCB को देना चाहिए।

मलिक ने मनीष भानुशाली की PM मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के साथ फोटो जारी की हैं।
मलिक ने मनीष भानुशाली की PM मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के साथ फोटो जारी की हैं।

बॉलीवुड को NCB के माध्यम से बदनाम करने की साजिश
नवाब मलिक ने गोसावी और भानुशाली के जरिए भाजपा पर NCB के माध्यम से बॉलीवुड और फिल्म इंडस्ट्री को बदनाम करने का आरोप लगाया है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि क्रूज पर NCB ने कोई ड्रग्स बरामद नहीं किया। मीडिया में जो वीडियो व फोटो जारी किए गए, वे सब NCB ऑफिस के हैं।

NCB की सफाई- कानून के मुताबिक 10 बाहरी लोगों को रेड में शामिल किया
नवाब मलिक के आरोप के बाद NCB के अधिकारी मीडिया के सामने आए और कहा कि उन्होंने सारी कार्रवाई नियम अनुसार की है। इस रेड में उन्होंने गोसावी और भानुशाली समेत 10 प्राइवेट इन्वेस्टीगेटर्स की मदद ली थी और ये सभी रेड के गवाह हैं। NCB के पास यह अधिकार है कि वह अपनी रेड में प्राइवेट इन्वेस्टीगेटर्स को शामिल कर सकती है।

इन बाहरी लोगों को NCB ने रेड में शामिल किया

  1. प्रभाकर सेल
  2. किरण गोसावी (नवाब मलिक का इन पर है आरोप)
  3. मनीष भानुशाली (नवाब मलिक का इन पर है आरोप)
  4. ऑब्रे गोमेज
  5. आदिल उस्मानी
  6. वी वैगनकर
  7. अपर्णा राणे
  8. प्रकाश बहादुर
  9. शोएब फैज
  10. मुजम्मिल इब्राहिम

भानुशाली ने कहा- उन्होंने ही NCB को दी थी रेव पार्टी की जानकारी
नवाब मलिक के आरोपों के बाद मनीष भानुशाली सामने आए। दिल्ली से जारी बयान में उन्होंने कहा कि वे भाजपा के एक साधारण कार्यकर्ता हैं और क्रूज पर रेव पार्टी की जानकारी उन्होंने ही NCB को दी थी। भानुशाली ने बताया कि उनका एक दोस्त 2 अक्टूबर को इस क्रूज पर जाने वाला था। उसी ने उन्हें बताया था कि कई बड़े लोग इस क्रूज पर ड्रग्स की पार्टी करने वाले हैं। इसके बाद भानुशाली ने NCB के जोनल हेड समीर वानखेड़े को यह जानकारी दी।

भानुशाली ने कहा कि NCB के कहने पर ही वे रेड में शामिल हुए थे। हालांकि उन्होंने कहा कि वे इस रेड में शामिल जरूर थे, लेकिन क्रूज पर नहीं बल्कि सिर्फ टर्मिनल तक गए थे। उन्हें नहीं पता था कि जिन लोगों को NCB ऑफिस लाया गया था, उनमें आर्यन खान भी था। भानुशाली ने कहा कि वे किसी को घसीटकर NCB ऑफिस नहीं ले जा रहे थे। वहां जगह कम थी, इसलिए जाने के दौरान ऐसा लग रहा है कि वे आरोपियों को जबरदस्ती ले जा रहे हैं।