पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Maharashtra Karnataka Rains Floods Update; Mumbai, Goa Pune Bengaluru Highway | Kolhapur, Ratnagiri Raigad Landslide Latest News Today

देश के कई हिस्सों में बाढ़ से तबाही:महाराष्ट्र में बाढ़ से जुड़े हादसों में 136 मौतें, कर्नाटक के 7 जिलों में रेड अलर्ट; गोवा के कई शहर पानी में डूबे

मुंबई/नई दिल्ली2 महीने पहले

महाराष्ट्र में शनिवार को भी बारिश का कहर जारी है। गुरुवार शाम से लेकर अब तक बारिश से जुड़ी अलग-अलग घटनाओं में 136 लोगों की मौत हो चुकी है। बुरी तरह प्रभावित ठाणे, रायगढ़, रत्नागिरी, सतारा, सांगली और कोल्हापुर जिलों से 8 हजार से ज्यादा लोगों को NDRF, नेवी और आर्मी ने रेस्क्यू किया है। 200 से ज्यादा गांवों का प्रमुख इलाकों से संपर्क टूट गया है।

गोवा से सटे महाराष्ट्र के इलाकों में अगले दो दिन बारिश का रेड अलर्ट है। यहां 6 जिलों में NDRF की 18 टीमों को तैनात किया गया है। 8 टीमें अलर्ट पर हैं। 2 टीमें रायगढ़ में शुक्रवार को हुई लैंड स्लाइड वाली जगह पर रेस्क्यू में जुटी हैं। इसके अलावा रायगढ़ में नेवी और कोल्हापुर, रत्नागिरी में आर्मी की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

NDRF की 18 टीमों को 6 जिलों में तैनात किया गया है। 8 टीमों को अलर्ट पर रखा गया है।
NDRF की 18 टीमों को 6 जिलों में तैनात किया गया है। 8 टीमों को अलर्ट पर रखा गया है।

कोंकण रूट पर ट्रेनों की आवाजाही शुरू हुई
कोल्हापुर के कई हिस्सों में सड़कों पर पानी भर गया है। कोंकण रेल मार्ग शनिवार से फिर शुरू हो गया है। पटरियां पानी में डूबने की वजह से शुक्रवार को इस पर ट्रेनों की आवाजाही बंद कर दी गई थी।

पुणे-बेंगलुरु हाईवे पर 20 किलोमीटर लंबा जाम
महाड़ में बाढ़ का पानी तो निकल गया है, लेकिन अभी भी तबाही के निशान सड़कों पर नजर आ रहे हैं। भारी बारिश के कारण किणी टोल प्लाजा के पास पुणे-बेंगलुरु हाईवे बंद है। इस पर 20 किलोमीटर तक वाहनों की लंबी कतार नजर आ रही है।

रायगढ़ में मरने वालों का आंकड़ा 44 तक पहुंचा
भारी बारिश की वजह से महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में भूस्खलन से मरने वालों की संख्या 44 हो गई है। शुक्रवार को तलाई गांव से 32 शव बरामद हुए, जबकि अन्य आसपास के गांव में मिले। प्रशासन ने यहां NDRF के साथ मिलकर सर्च और रेस्क्यू ऑपरेशन तेज कर दिया है।

शहरी विकास और PWD मंत्री एकनाथ शिंदे रायगढ़ में हादसे वाली जगह पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि 80-85 लोग लापता हैं। माना जा रहा है कि मृतकों का आंकड़ा बढ़ सकता है।
शहरी विकास और PWD मंत्री एकनाथ शिंदे रायगढ़ में हादसे वाली जगह पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि 80-85 लोग लापता हैं। माना जा रहा है कि मृतकों का आंकड़ा बढ़ सकता है।

पोलाडपुर लैंडस्लाइड में 6 शव बरामद
रत्नागिरी के पोलाडपुर तालुका के गोवेले पंचायत में गुरुवार रात करीब 10 बजे भूस्खलन हुआ। खबर है कि करीब 10 घर इसकी चपेट में आए हैं।। मौके से 6 शव बरामद किए गए हैं। 10 लोगों को बचा लिया गया है। सतारा के कलेक्टर शेखर सिंह ने बताया कि पाटन में लैंडस्लाइड के बाद 30 लोग लापता हैं। 300 लोगों को बचा लिया गया है। उधर, चिपलून के कोविड अस्पताल में पानी भरने से यहां भर्ती 8 मरीजों की मौत हो गई।

चिपलून में सड़कें पानी में डूबी हुई हैं। NDRF की टीम राहत और बचाव कार्य में लगी हुई है।
चिपलून में सड़कें पानी में डूबी हुई हैं। NDRF की टीम राहत और बचाव कार्य में लगी हुई है।

मृतकों के परिजनों को आर्थिक मदद
लैंडस्लाइड से जान गंवाने वालों के परिजन को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने 5-5 लाख और केंद्र ने 2-2 लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है। घायलों को 50-50 हजार रुपए की सहायता राशि दी जाएगी।

कर्नाटक के 7 जिलों में बारिश को लेकर रेड अलर्ट
कर्नाटक में पिछले 24 घंटों में भारी बारिश हुई। कई इलाकों में बाढ़ आ गई। तीन लोगों की मौत की खबर है। दो लापता हैं। कम से कम 8 जगहों पर भूस्खलन हुआ है। बाढ़ प्रभावित इलाकों से 9,000 से अधिक लोगों को निकाला जा चुका है। राज्य के 7 जिलों- दक्षिण कन्नड़, उडुप्पी, उत्तर कन्नड़, शिवमोगा, चिकमंगलूर, हासन और कोडागु में बारिश का रेड अलर्ट है।

ICG की टीम उत्तर कन्नड़ जिले में भारी बारिश के बाद बाढ़ वाले इलाके में बचाव अभियान में लगी है। लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया जा रहा है।
ICG की टीम उत्तर कन्नड़ जिले में भारी बारिश के बाद बाढ़ वाले इलाके में बचाव अभियान में लगी है। लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया जा रहा है।

गोवा में दशकों बाद भीषण बाढ़ आई
गोवा में शुक्रवार को भारी बारिश की वजह से सड़कें और पुल पानी में डूब गए। यहां दशकों बाद इतनी भयानक बाढ़ आई है। इससे करोड़ों की संपत्ति को नुकसान पहुंचा है। 400 से अधिक लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है। लैंडस्लाइड और नदी के उफान से दो ट्रेनें भी पटरी से उतर गईं। यहां अगले अगले तीन दिन तक भारी बारिश का अनुमान है।

मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने बताया कि बाढ़ से सत्तारी और बिचोलिम, पोंडा, धारबंदोरा, बारडेज और पेरनम तालुका बुरी तरह से प्रभावित हैं, जबकि अन्य इलाकों में भी इससे क्षति हुई है। उन्होंने बताया कि धारबंदोरा में एक महिला की मौत की सूचना मिली है, लेकिन इसकी वास्तविक वजह की पुष्टि नहीं हो पाई है।

CM ने ट्वीट में PM मोदी को टैग करते हुए लिखा कि लगातार बारिश के कारण गोवा में बाढ़ की स्थिति बन गई है। प्रधानमंत्री ने राज्य को पूर्ण समर्थन और सहायता देने का आश्वासन दिया है।

बिहार के सुपौल में बांध टूटा
बिहार के सुपौल में कोसी नदी के तेज बहाव से सिकरहट्टा-मझारी बांध शुक्रवार को टूट गया। बाढ़ का पानी दर्जनों गांव में घुस गया। DM, SP और विभाग के चीफ इंजीनियर मौके पर कैंप कर रहे हैं। लोग NH-57 पर शरण लिए हुए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, बांध का जो हिस्सा टूटा वहां कई दिनों से दबाव बना हुआ था, लेकिन जलसंसाधन विभाग ने ध्यान नहीं दिया। RJD के पूर्व विधायक यदुवंश यादव ने आरोप लगाया कि विभाग ने इसे जान बूझकर तोड़ा है ताकि काम के नाम पर लूट की जा सके।

खबरें और भी हैं...