सेलेब्रिटीज ट्वीट की जांच का मामला:नाना पटोले ने कहा- सभी पोस्ट में एक जैसी भाषा का हुआ इस्तेमाल, भाजपा को फंसने का डर सता रहा रहा है

मुंबई2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नाना पटोले मंगलवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्षा सोनिया गांधी और राहुल गांधी से मिलने दिल्ली पहुंचे थे। - Dainik Bhaskar
नाना पटोले मंगलवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्षा सोनिया गांधी और राहुल गांधी से मिलने दिल्ली पहुंचे थे।

महाराष्ट्र कांग्रेस के नवनियुक्त अध्यक्ष नाना पटोले मंगलवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी से मिलने दिल्ली पहुंचे थे। यहां मीडिया से बात करते हुए पटोले ने कहा कि कांग्रेस में लोकतंत्र है और यहां सभी को अपनी बात रखने का हक है। ये बीजेपी नहीं, जहां मोटा भाई और छोटा भाई के आगे किसी को बोलने की इजाजत नहीं।बता दें कि पटोले महाराष्ट्र के बड़े ओबीसी चेहरे हैं और उनके कद को देखते हुए पार्टी ने उनके कंधों पर राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है।

सेलिब्रिटीज ट्वीट के पीछे भाजपा का हाथ
किसान आंदोलन के मामले में बाहरी और अंदरूनी मामले में जिन सेलिब्रिटी ने ट्वीट (Tweet) किया, उनके ट्वीट की जांच के आदेश पर नाना पटोले ने कहा कि बीजेपी की देश भक्ति देश को खत्म करने की है। साथ ही कहा कि किसान आंदोलन को जिस तरह उन्होंने बर्बाद करने की कोशिश की, उससे उनकी देश भक्ति सबके सामने आ आगे आ गई है। जहां तक बात सेलेब्रेटी के ट्वीट की है तो हमें पूरा विश्वास है की ये बीजेपी सरकार का ही काम है।

भाजपा को सता रहा पोल खुलने का डर
नाना पटोले ने कहा कि किसान आंदोलन दबाने के लिए 26 जनवरी को बीजेपी ने जो लाल किले पर तांडव कराया इससे उसकी छवि खराब हो गई है और इसलिए बीजेपी अपनी छवि साफ करने के लिए वो इस प्रकार के काम कर रही है। साथ ही कहा कि सेलिब्रिटी के नाम का इस्तेमाल करके केंद्र सरकार अपना संदेश जनता तक देने की कोशिश कर रही है। नाना पटोले ने पूछा कि अगर ऐसा नहीं तो इस फैसले का बीजेपी और केंद्र के नेता इतना विरोध क्यों कर रहे हैं? शायद इन्हें अपनी पोल खुलने का डर सता रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि सुनील शेट्टी ने जिस नेता के ट्वीट को रिट्वीट किया है, वो बीजेपी का नेता है।

सारे ट्वीट देखने में एक जैसे लग रहे हैं
नाना पटोले ने आगे कहा कि अगर सारे ट्वीट देखें तो उनमें काफी समानता है, जैसे किसी ने उन्हें तैयार करके दिया हो। यही सब देखने के बाद महाराष्ट्र कांग्रेस ने गृह मंत्री से इसकी शिकायत की और इनकी जांच करने की मांग की है। सेलिब्रिटी को अपने फ्रेम में रहना चाहिए। संविधान ने सबको अपनी बात रखने का हक दिया है पर अपने नाम का इस्तेमाल किसी और की राजनैतिक रोटियां सेंकने के लिए करना गलत है, फिर वो कोई भी क्यों न हो हम उसका विरोध करेंगे।