• Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Mumbai Pune (Maharashtra) Coronavirus Cases Update | Maharashtra Corona Cases District Wise Today News; Mumbai Pune Thane Nashik Aurangabad Solapur Amravati

महाराष्ट्र: अनलॉक-1 का 27वां दिन / 84 हजार से ज्यादा लोग ठीक हुए, आज सामने आये रिकॉर्ड 5318 नए केस; केंद्रीय जांच टीम ने किया राज्य का दौरा

मुंबई के मलाड का अप्पा पाड़ा इलाका धीरे-धीरे  कोरोना हॉटस्पॉट बन रहा है। जिसके बाद पुलिस ने इस इलाके में बाहर से आने वालों पर पाबंदी लगा दी है। हर आने वाले से पुलिसकर्मी पूछताछ कर रहे हैं। मुंबई के मलाड का अप्पा पाड़ा इलाका धीरे-धीरे कोरोना हॉटस्पॉट बन रहा है। जिसके बाद पुलिस ने इस इलाके में बाहर से आने वालों पर पाबंदी लगा दी है। हर आने वाले से पुलिसकर्मी पूछताछ कर रहे हैं।
X
मुंबई के मलाड का अप्पा पाड़ा इलाका धीरे-धीरे  कोरोना हॉटस्पॉट बन रहा है। जिसके बाद पुलिस ने इस इलाके में बाहर से आने वालों पर पाबंदी लगा दी है। हर आने वाले से पुलिसकर्मी पूछताछ कर रहे हैं।मुंबई के मलाड का अप्पा पाड़ा इलाका धीरे-धीरे कोरोना हॉटस्पॉट बन रहा है। जिसके बाद पुलिस ने इस इलाके में बाहर से आने वालों पर पाबंदी लगा दी है। हर आने वाले से पुलिसकर्मी पूछताछ कर रहे हैं।

  • महाराष्ट्र में कोरोनावायरस के आज 5318 केस सामने आए हैं जबकि 167 लोगों की मौत हुई है
  • जिन 167 मरीजों की मौत हुई है, उसमें 86 मौत पिछले 48 घंटे में हुई और बाकी 81 पहले की हैं

दैनिक भास्कर

Jun 27, 2020, 08:55 PM IST

मुंबई. महाराष्ट्र में कोरोनावायरस के आज 5318 केस सामने आए हैं जबकि 167 लोगों की मौत हुई है। इसी के साथ राज्य में कोरोना वायरस के कुल मामले 159133 पहुंच गया है। राज्य स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि जिन 167 मरीजों की मौत हुई है, उसमें 86 मौत पिछले 48 घंटे में हुई और बाकी 81 पहले की हैं। इसके अलावा, 4460 मरीजों के ठीक होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी गई, जिससे राज्य में ठीक हुए मरीजों की कुल संख्या 84245 हो गई। फिलहाल अब राज्य में 67600 एक्टिव मरीज बचे हैं।

केंद्रीय दल ने मृत्युदर कम करने को कहा 
महाराष्ट्र के ठाणे में कोरोना वायरस संक्रमण के हालात का जायजा लेने के लिए एक केन्द्रीय दल शनिवार को यहां पहुंचा और उसने स्थानीय अधिकारियों को मृत्युदर कम करने पर ध्यान केन्द्रित करने को कहा। शुक्रवार की रात तक ठाणे जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के 27479 मामले थे और ठाणे शहर, कल्याण-डोंबीवली और भिवंडी में संक्रमण की संख्या चिंताजनक बनी हुई है। 

मुंबई के परेल ईस्ट इलाके में बीएमसी कर्मियों ने जांच के लिए इस तरह के क्लिनिक शुरू किए हैं। यहां रहने वालों की स्क्रीनिंग के साथ लक्षण वालों की कोरोना जांच भी हो रही है। 

गूगल फॉर्म पर मौतों का आंकड़ा दर्ज करेगी बीएमसी 

बीएमसी मौतों के आंकड़ों को और सटीक ढंग से देने के लिए 1 जुलाई 2020 से कोरोना वायरस से होने वाली मौतों को गूगल फॉर्म पर दर्ज करने का सिस्टम शुरू करने जा रही है। अस्पताल के नोडल अधिकारी को निर्देश दिया गया है कि वो 1 जुलाई 2020 से अपने ​अस्पताल से 48 घंटे के अंदर मौत को रिपोर्ट करना सुनिश्चित करें। 

अनलॉक के इतने दिन बीत जाने के बावजूद मुंबई से अपने राज्यों की और जाने वाले प्रवासियों का पलायन लगातार जारी है। यह तस्वीर मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनस स्टेशन के बाहर की है।

दो महीनें में चेन स्नैचिंग के सिर्फ दो मामले सामने आए

कोरोना महामारी के दौरान लागू किए गए लॉकडाउन के बीच मुंबई में अपराध दर में कमी हुई है। अप्रैल और मई के महीने में चेन स्नेचिंग के केवल 2 मामले दर्ज किए गए हैं। मार्च, अप्रैल और मई में दर्ज किए गए मामलों पर नजर डालें तो कुल 11895 मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें से 9415 अपराध के मामले केवल लॉकडाउन नियमों के उल्लंघन के हैं।

इस वजह से अपराध में आई कमी 

मुंबई पुलिस के प्रवक्ता डीसीपी प्रणय अशोक के मुताबिक, लॉकडाउन में सड़क पर होने वाले अपराधों में बहुत कमी आई। इसकी वजह है कि लोग अपने घरों के अंदर रहे। बाजारों में भीड़ नहीं थी। लोग घर के अंदर रहे। अपराधियों को बाहर आने का मौका नहीं मिला। इसके अलावा सड़क पर पुलिस की भारी मौजूदगी थी। लॉकडाउन अवधि के दौरान पूरे शहर में 199 चौकियां कायम थीं, जो सीधे क्राइम रेट को प्रभावित कर रही थीं।

मुंबई से सटे ठाणे में बढ़े हुए बिजली बिल को लेकर स्थानीय लोगों ने बिजली विभाग के दफ्तर पर प्रदर्शन किया। लॉकडाउन की वजह से इस बार तीन महीने का बिल एक साथ भेज दिया गया है। 

सार्वजनिक और प्राइवेट परिवहन सेवाओं को फिर शुरू करने की तैयारी  

प्रदेश में सार्वजनिक और निजी परिवहन सेवाएं जल्द शुरू करने को लेकर तीन समूह बनाए गए हैं। इसमें रिक्शा और टैक्सी चालकों, निजी बस और स्कूल बस चालकों और ट्रक, टेम्पो और ट्रक चालकों के समूह का समावेश है। प्रदेश के परिवहन मंत्री अनिल परब ने यह जानकारी दी। परब ने कहा कि लॉकडाउन के कारण काफी वाहन तीन महीने से नहीं चले हैं। इसलिए सड़कों पर नहीं चलने वाले वाहनों के टैक्स को माफ करने की मांग संगठनों ने की है। इसके अलावा बैंकों के कर्ज की किश्त और बीमा कवच की अवधि बढ़ाने की मांग की गई है।  

कृषि के विद्यार्थी किश्तों में भर सकेंगे शैक्षणिक शुल्क 

कोरोना संकट के चलते राज्य के कृषि और संलग्न पाठ्यक्रमों के विद्यार्थियों को शैक्षणिक शुल्क भरने की सहूलियत दी गई है। शुक्रवार को प्रदेश के कृषि मंत्री दादाजी भुसे ने यह जानकारी दी। भुसे ने कहा शैक्षणिक वर्ष 2020-21 में तीसरे, पांचवें और सातवंर सेमेस्टर के विद्यार्थी शैक्षणिक शुल्क एक बार के बजाय तीन किश्तों में भर सकेंगे। यह शैक्षणिक शुल्क परीक्षा से पहले भरना होगा।

पुणे में शुक्रवार को शरद पवार, अजीत पवार, अनिल देशमुख और स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे कोरोना के हालात का जायजा लेने के लिए एक बैठक में पहुंचे थे। 

बेस्ट के 2000 कर्मचारियों को अनुपस्थित रहने पर चार्जशीट

बेस्ट प्रशासन ने अब तक करीब 2000 कर्मचारियों को चार्जशीट दी है, जबकि 11 को नौकरी से बर्खास्त कर दिया है। जिन कर्मचारियों पर कार्रवाई की गई है, उनमें से ज्यादातर बस संचालन विभाग के कर्मचारी हैं। पहले बेस्ट द्वारा करीब 600 कर्मचारियों को अनुपस्थित रहने पर नोटिस दिया गया था। इनमें से ज्यादातर कर्मचारियों ने 11 जून को किए विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया था। विरोध प्रदर्शन में शामिल लगभग 2000 कर्मचारियों को चार्जशीट दी गई है। 

उत्तरी मुंबई के घनी आबादी वाले इलाकों में इमारतों को किया जाएगा सील

मुंबई पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने कहा कि पिछले 15 दिनों में यहां कोविड-19 के मामले बढ़ने के मद्देनजर उत्तर मुंबई के घनी आबादी वाले इलाकों और झुग्गी बस्तियों में इमारतों को सील किया जाएगा। शुक्रवार को उत्तरी मुंबई का दौरा करने के दौरान पुलिस आयुक्त ने कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ने के पीछे यहां घनी आबादी को कारण बताया। उत्तरी मुंबई में दहीसर, बोरिवली, मलाड, चारकोप और कांदिवली जैसे इलाके आते हैं। यहां पिछले 15 दिनों में संक्रमण के मामले बढ़े हैं। उन्होंने बताया कि झुग्गी बस्तियों और अन्य घनी आबादी वाले स्थानों पर स्थित इमारतों में कई मामले सामने आए हैं। पुलिस ऐसी इमारतों को सील कर रही है और इन कदमों के नतीजे अगले कुछ दिनों में दिखाई देंगे। सिंह ने बताया कि शहर में अभी 750 निषिद्ध क्षेत्र हैं जिनमें से 300 अकेले उत्तरी मुंबई में स्थित हैं। 

महाराष्ट्र में जारी लॉकडाउन के बीच पेंड इलाके में एक गणेश प्रतिमा बनाता एक कारीगर।  

चार फुट से ज्यादा नहीं बनेंगी गणेश प्रतिमाएं: सीएम ठाकरे  

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को कहा कि गणेश मंडलों को आने वाले गणेश महोत्सव में पंडालों में चार फुट से ज्यादा ऊंची गणेश प्रतिमा नहीं लगानी चाहिए। ठाकरे ने इससे पहले गणेश महोत्सव से जुड़े आयोजन करने वाले गणेश मंडलों से अपील की थी कि वे कोरोना को देखते हुए इस साल सादे-सरल तरीके से ही उत्सव का आयोजन करें। राज्य में गणेश महोत्सव की शुरुआत 22 अगस्त से होनी है। मुंबई में गणपति की ऊंची-ऊंची प्रतिमाएं स्थापित करने का खास चलन है। ठाकरे ने कहा कि मुंबई और पुणे में लोग बड़ी और ऊंची गणेश प्रतिमाओं को देखने के लिए बड़ी संख्या में आते हैं और ऐसे में महामारी में इस भीड़ से बचा जाना चाहिए। 

मुंबई में लोकल ट्रेन सेवा शुरू होने के बाद हर दिन इन्हे सैनिटाइज किया जाता है। 

मुंबई में फिर शुरू हुई सीरियल की शूटिंग

मुंबई में कोरोना के बीच कलाकारों और अन्य कर्मियों ने टीवी धारावाहिकों की शूटिंग शहर के विभिन्न इलाकों में फिर से शुरू कर दी। कोरोना की वजह से मध्य मार्च में टीवी शो और फिल्मों की शूटिंग रुक गई थी। अब निरूद्ध क्षेत्र से बाहर राज्य सरकार द्वारा तय किए गए सुरक्षा नियमों का पालन करते हुए शूटिंग की मंजूरी दे दी गई है। कलर्स टीवी के शो ‘ शक्ति अस्तित्व के एहसास की’, ‘छोटी सरदारनी’, ‘बैरिस्टर बाबू’, ‘शुभारंभ’, ‘नाटी पिंकी की लंबी लव स्टोरी’ और एंड टीवी के ‘एक महानायक डॉक्टर बी आर आंबेडकर’और ‘संतोषी मा सुनाए विराट कथाएं’ की शूटिंग, या तो फिल्म सिटी में या फिर मुंबई के बाहरी इलाके नैगांव में इस सप्ताह से शुरू हो गई।

 सीएम उद्धव ठाकरे के आदेश के बाद ज्यादातर स्कूलों ने बच्चों को ऑनलाइन ट्रेनिंग देना शुरू कर दिया है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना