पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

महामारी में मौकापरस्त:पिंपरी में सरकारी कोविड सेंटर में ICU बेड दिलाने के लिए 1 लाख रुपए वसूलने वाले तीन डॉक्टर्स गिरफ्तार

पुणे13 दिन पहले
तीनों ने एक मरीज के परिजन से एक लाख रुपए लिए थे।

कोरोना मरीज के परिजनों को ICU का बेड दिलाने के नाम पर पैसे वसूलने वाले तीन डॉक्टर्स को देर रात पिंपरी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। तीनों ने एक मरीजों से ऑटो क्लस्टर स्थित जंबो कोविड सेंटर में बेड उपलब्ध कराने के लिए एक लाख रुपए रिश्वत ली थी। इनमें कोविड केयर सेंटर का संचालन करने वाले स्पर्श प्राइवेट लिमिटेड के डॉक्टर प्रवीण जाधव, वाल्हेकरवाड़ी स्थित पद्मजा हॉस्पिटल के डॉक्टर शशांक राले और डॉक्टर सचिन कसबे शामिल हैं। उनके खिलाफ पिंपरी-चिंचवड महानगरपालिका के अतिरिक्‍त आयुक्‍त (3) उल्हास जगताप ने पिंपरी पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

फ्री में होता है इस कोविड सेंटर में इलाज
चिंचवड के ऑटो क्लस्टर में महानगर पालिका की ओर से जंबो कोविड हॉस्पिटल चलाया जा रहा है, जिसका संचालन फॉरच्यून स्पर्श हेल्थ केयर नामक निजी संस्था को सौंपा गया है। यहां मरीजों का सारा इलाज मुफ्त किया जाता है और संस्था को महानगरपालिका की ओर से भुगतान किया जाता है। इसके बावजूद यहां ICU बेड उपलब्ध कराने के लिए एक मरीज के परिजनों से एक लाख रुपए लिए गए।

ऐसे सामने आया यह मामला
मनपा स्कूल की एक मुख्याध्यापिका के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद उसका वाल्हेकरवाड़ी के पद्मजा नाम के निजी अस्पताल में इलाज जारी था। तबीयत बिगड़ने से उसे ICU बेड की आवश्यकता बताई गई। वहां के डॉक्टरों ने उसके परिजनों से एक लाख रुपए लेकर ऑटो क्लस्टर के जंबो कोविड सेंटर में ICU बेड उपलब्ध कराया। बाद में मुख्याध्यापिका की इलाज के दौरान मौत हो गई।

महापौर ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराने का दिया आदेश
चिखली के स्थानीय नगरसेवक कुंदन गायकवाड़ को इसकी भनक लगी। उन्होंने भाजपा के अपने साथी नगरसेवक विकास डोलस के साथ पहले ऑटो क्लस्टर और बाद में पद्मजा हॉस्पिटल में जाकर इसका जवाब मांगा। पद्मजा के डॉक्टर ने एक लाख रुपए स्वीकारने की बात कबूल की। इसके बाद यह मामले मेयर ऊषा ढोरे के संज्ञान में लाया गया और उनके आदेश के बाद पुलिस ने तीनों के खिलाफ मनपा के अतिरिक्त आयुक्त उल्हास जगताप ने केस दर्ज करवाया।

इसके बाद मनपा कमिश्नर ने भी पुलिस कमिश्नर को एक पत्र भेजकर इस मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग की। पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए सोमवार देर रात तीन डॉक्टरों को गिरफ्तार कर लिया।

पहले भी सामने आया है इसी तरह का केस
इससे पहले भोसरी के रामस्मृती मैरिज हॉल और हिरा लॉन्स के कोविड केयर सेंटर में एक भी मरीज का इलाज नहीं करने के बावजूद स्पर्श हॉस्पिटल को 5 करोड़ 14 लाख रुपए के बिल का भुगतान किये जाने का मामला सामने आया था। 9 मार्च की सर्वसाधारण सभा में इसपर हंगामा भी हुआ। इस पर महापौर उषा ढोरे ने इस मामले की जांच कर 10 दिन में रिपोर्ट सभागृह में पेश करने के आदेश दिए थे। हालांकि, पौने दो माह के बाद भी इसकी रिपोर्ट पेश नहीं की गई।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा व्यवहारिक गतिविधियों में बेहतरीन व्यवस्था बनी रहेगी। नई-नई जानकारियां हासिल करने में भी उचित समय व्यतीत होगा। अपने मनपसंद कार्यों में कुछ समय व्यतीत करने से मन प्रफुल्लित रहेगा ...

और पढ़ें