पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

महाराष्ट्र में पहली बार:पुणे के चाकण में पैसे चुराने के लिए जिलेटिन से ATM को उड़ाया गया, 28 लाख रुपए लेकर फरार हुए आरोपी

पुणे15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
धमाके के बाद मशीन और ATM रूम के परखच्चे उड़ गए। - Dainik Bhaskar
धमाके के बाद मशीन और ATM रूम के परखच्चे उड़ गए।

महाराष्ट्र के पुणे से एक बेहद हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक बैंक के ATM को लूटने से पहले चोरों ने उसे विस्फोटक से उड़ा दिया और फिर उसके फटने के बाद उसमें रखा मनी बॉक्स उड़ा कर रफूचक्कर हो गए। घटना देर रात हुई है, इसलिए इस धमाके में कोई घायल नहीं हुआ है। फिलहाल पुलिस ATM में लगे CCTV कैमरे की सहायता से मामले की छानबीन में जुटी हुई है।

जानकारी के मुताबिक, देर रात 2 बजे के आसपास हुई यह वारदात चाकण के महालुंगे के भाम्बोली में मुख्य सड़क के किनारे लगे हिटाची कंपनी के एटीएम में हुई है। यह जगह मुख्य शहर से तकरीबन 20 किलोमीटर दूर स्थित है। एटीएम से 28 लाख रुपए की चोरी हुई है। धमाके के कुछ देर बाद स्थानीय लोग मौके पर पहुंचे तो आरोपी मौके से फरार हो चुके थे। पुलिस का मानना है कि इस वारदात में दो से ज्यादा लोग शामिल थे। सूचना मिलने के बाद स्थानीय पुलिस और डॉग स्क्वायड की टीम मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू हुई।

इस धमाके में ATM बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हुआ है।
इस धमाके में ATM बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हुआ है।

ATM को ब्लास्ट कर पैसे उड़ाने का राज्य का पहला मामला
यह संभवतः महाराष्ट्र का पहला मामला है जब पैसे को लूटने के लिए किसी ATM को ब्लास्ट कर उड़ाया गया है। इसी तरह की एक वारदात मध्यप्रदेश के जबलपुर में भी जनवरी में हुई थी। पुलिस के मुताबिक, ATM को उड़ाने के लिए जिलेटिन की छड़ों का इस्तेमाल किया गया है। इससे पहले पुणे में एटीएम को लूटने की कई वारदातें हुई, लेकिन उनमें या तो मशीन को गाड़ी से बांध कर खींचा गया था या फिर गैस कटर से उसे काटा गया था। पुणे पुलिस अब इस बात की जांच भी कर रही है कि आरोपियों के पास जिलेटिन की छड़ें कैसे पहुंची।

ATM में थे 40 लाख रुपए

पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) मंचक इप्पार ने कहा, "CCTV कैमरों की जांच में सामने आया है कि ATM के अंदर आखिरी बार दो लोग आये थे और इनके बाहर जाने के कुछ देर बाद धमाका हुआ। धमाके के कारण काफी कैश जल भी गया है। वे कैश बिखरे हुए किस को बैग में भरकर फरार हो गए।"

डीसीपी ने कहा, 'बैंक अधिकारियों के मुताबिक डिस्पेंसर में करीब 40 लाख रुपये की नकदी थी और जो कुछ बचा है उसके आधार पर लगता है कि चोर 28 से 30 लाख रुपये लेकर चोर भागने में सफल रहे हैं। 4 टीमें मामले की जांच कर रही हैं और विभिन्न सुरागों पर काम कर रही हैं।"