विवादों में फेमस लावणी डांसर:पुणे के लाल महल में अश्लील डांस करने का आरोप, माफी मांगने के बावजूद 4 लोगों पर दर्ज हुआ केस

पुणे2 महीने पहले

पुणे शहर के ऐतिहासिक लाल महल में रील्स (शॉर्ट वीडियो) बनाना एक फेमस लावणी आर्टिस्ट को महंगा पड़ गया। उनके डांस को अश्लील बताते हुए डांसर समेत चार लोगों पर शनिवार को केस दर्ज हुआ है। हालांकि, वीडियो वायरल होने के बाद डांसर की ओर से माफी मांगी गई है, लेकिन लोगों का गुस्सा शांत नहीं हो रहा है।

फरसखाना पुलिस स्टेशन से मिली जानकारी के अनुसार, लाल महल में अश्लील डांस करने के आरोप में लावणी आर्टिस्ट वैष्णवी पाटिल और वीडियो शूट करने वाल कुलदीप बापट और उसके 2 साथियों पर केस दर्ज किया गया है। जांच में सामने आया है कि वैष्णवी पाटिल ने मंगलवार को यह वीडियो शूट किया था और बुधवार को इसे सोशल मीडिया में अपलोड किया। हालांकि, वीडियो वायरल होने के बाद इसे अपने अकाउंट से हटा दिया गया है, लेकिन कुछ अन्य अकाउंट पर अभी भी यह वायरल हो रहा है।

शिव प्रेमियों ने इस डांस को अश्लील करार देते हुए केस दर्ज करवाया है।
शिव प्रेमियों ने इस डांस को अश्लील करार देते हुए केस दर्ज करवाया है।

डांसर के खिलाफ हो रहे हैं प्रदर्शन
संभाजी ब्रिगेड और अन्य प्रगतिशील संगठनों की ओर से घटना को लेकर आक्रामक आंदोलन करने के बाद पुणे पुलिस ने मामला दर्ज किया। शनिवार को भी लाल महल के बाहर कुछ युवाओं ने प्रोटेस्ट किया है। प्रोटेस्ट करने वालों का आरोप है कि कड़ी सुरक्षा के बावजूद आखिर कैसे महल के अंदर यह डांस किया गया और शूटिंग हुई। आरोप है कि लाल महल के आस-पास नगर निगम के सुरक्षा गार्ड्स ने उन्हें क्यों नहीं रोका।

मराठा संघ के कार्यकर्ताओं ने आज महल को दूध से पवित्र किया।
मराठा संघ के कार्यकर्ताओं ने आज महल को दूध से पवित्र किया।

गाय के दूध से लाल महल को किया गया शुद्ध
शिवभक्तों की तरफ से इस वीडियो पर आपत्ति जताई गई है। शिवभक्तों का कहना है कि जिस लाल महल में छत्रपति शिवाजी महाराज और राजमाता जिजाऊ का संबंध था, उसे पवित्र स्थान को ऐसे बदनाम किया जाना गलत है। इसको लेकर सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। इस डांस पर विवाद के बीच शनिवार को मराठा संघ के कार्यकर्ताओं ने गाय के दूध से पूरे लाल महल को शुद्ध किया है।

विवाद बढ़ने पर लावणी डांसर ने माफी मांगी है।
विवाद बढ़ने पर लावणी डांसर ने माफी मांगी है।

विवाद बढ़ने पर डांसर ने मांगी माफी
वीडियो वायरल होने के बाद लावणी डांसर ने एक और वीडियो जारी कर माफी मांगी है। मराठी भाषा में जारी इस वीडियो में वैष्णवी ने कहा....

  • 'महाराष्ट्र की जनता को मेरा प्रणाम, आप सभी लोग हैं इसीलिए में हूं, कुछ दिन पहले पुणे के राजमाता जिजाऊ के लाल महल में चंद्र लावणी नृत्य किया था, लेकिन मेरे मन में कोई अलग भावना नहीं थी, मेरा किसी का दिल दुखाने का इरादा नहीं था।
  • यह गलती मुझे समझ आई और मैंने तुरंत अपने अकाउंट से वह वीडियो डिलीट कर दिया है। साथ ही में सभी लोगो से अपील करूंगी की यह वीडियो जिन्होंने शेयर किए है वो भी डिलीट कर दें।
  • मुझे गलती हुई है और मैंने लाल महल जैसे पवित्र स्थल पर वीडियो बनाया। मैं अपनी गलती मानती हूं इसीलिए में आज लाइव आकार सभी से और शिवप्रेमियों से माफी मांगती हूं।
  • छत्रपति शिवाजी महाराज और राजमाता जिजाऊ इनकी अस्मिता को धक्का पहुंचाने का मेरा कोई इरादा नहीं था, में खुद शिवप्रेमी हूं और महाराष्ट्रियन लड़की हूं। फिर से ऐसी गलती कभी नहीं होगी ऐसा आश्वस्त करती हूं।
इसी महल में शिवाजी महाराज ने काटी थी मुगल सूबेदार की अंगुलियां।
इसी महल में शिवाजी महाराज ने काटी थी मुगल सूबेदार की अंगुलियां।

इसलिए लाल महल को लेकर हो रहा विवाद
इसी लाल महल में छत्रपति शिवाजी महाराज ने औरंगजेब के मामा शाइस्ता खान की उंगलियां काट दी थीं। 1660 ई. में औरंगजेब ने उसे विशेष रूप से मराठा साम्राज्य का दमन करने के लिए दक्षिण का सूबेदार नियुक्त किया था। खान ने धोखे से इस महल पर कब्जा किया था, लेकिन शिवाजी महाराज की वीरता के आगे उसे हार माननी पड़ी और औरंगजेब ने उसे बंगाल भेज दिया था। इसके बाद फिर से शिवाजी महाराज के कब्जे में यह महल आया और माता जीजाऊ यहां रहा करतीं थी। इसीलिए इस स्थान को बेहद पवित्र माना जाता है।

खबरें और भी हैं...