महाराष्ट्र में नहीं रुक रहा रेप का सिलसिला:पुणे में खुद को ACP बता शख्स ने किया एक महिला टीचर संग रेप, अमरावती में 7 महीने की गर्भवती रेप पीड़िता ने लगाई फांसी

पुणे3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अमरावती में हुई रेप की वारदात में आरोपी गिरफ्तार हो चुका है। हालांकि, पुणे वाली घटना का आरोपी अभी भी फरार है। - Dainik Bhaskar
अमरावती में हुई रेप की वारदात में आरोपी गिरफ्तार हो चुका है। हालांकि, पुणे वाली घटना का आरोपी अभी भी फरार है।

महाराष्ट्र की सांस्कृतिक राजधानी पुणे में महिलाओं के खिलाफ अत्याचार रुकने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामले सामने आया है पुणे से सटे पिंपरी चिंचवाड़ से, यहां खुद को ACP बताने वाले एक शख्स पर एक महिला संग रेप का आरोप लगा है। रेप के दौरान आरोपी ने 38 वर्षीय महिला का वीडियो बनाया और उसे वायरल करने की धमकी देते हुए महिला के साथ कई बार फिर से रेप किया। पुलिस को दी अपनी कंप्लेंट में महिला ने कहा है कि आरोपी अकसर कहता था,'मैं एसीपी हूं और मेरा कोई कुछ बिगाड़ नहीं सकता है। अगर इस बारे में किसी को बताया तो, तुझे व तेरे परिवार को जिंदा नहीं छोडू,आरोपी ने पीड़िता को ऐसी धमकी दी।'

उधार पैसे देने के बहाने घर पर बुलाया और किया रेप
आरोपी विकास अवस्थी के खिलाफ सांगवी थाने में मामला दर्ज किया गया है। वारदात के बाद से आरोपी फरार है। जांच में यह भी सामने आया है कि आरोपी ACP नहीं है और न ही कभी पुलिस डिपार्टमेंट में रहा है। उसने महिला को अपने जाल में फंसाने के लिए खुद को ACP बताया था। पुलिस के अनुसार, पीड़िता एक शिक्षिका है और उसने आरोपी से कुछ दिन पहले कुछ पैसे उधार लेने गई थी। पैसे देने के बहाने आरोपी ने पीड़िता को अपने घर बुलाया और उसके साथ रेप किया था। उसने महिला को अपने जाल में फंसा कर दो ब्लैंक चेक पर सिग्नेचर भी करवाया था।

रेप के बाद खिंची पीड़िता की आपत्तिजनक तस्वीर
आरोप है कि इसी दौरान उसने पीड़िता को सॉफ्ट ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाया और उसके साथ दुष्कर्म किया। उसने पीड़िता की नग्न अवस्था में फोटो खींची और बिना पैसे दिए महिला को भगा दिया। घटना से पीड़िता सहम गई। आरोपी उस स्कूल में गया जहां पीड़िता काम कर रही थी। वहां पीड़िता को न्यूड फोटो दिखाकर स्कूल व परिवार वालों को फोटो दिखाकर बदनाम करने की धमकी दी।

अमरावती में 7 महीने की गर्भवती रेप पीड़िता ने किया सुसाइड
महाराष्ट्र के अमरावती में 17 साल की रेप पीड़िता ने शनिवार को फांसी लगाकार आत्महत्या कर ली है। पीड़िता 7 महीने की गर्भवती थी। पुलिस ने इस मामले में रेप और आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में एक शख्स को गिरफ्तार कर लिया है। पीड़िता का शव उनके घर के एक कमरे में पंखे से लटका हुआ मिला है।

पीड़िता अपने माता-पिता के साथ रह रही थी। साल 2020 में पीड़िता की एक युवक से दोस्ती हुई थी और आरोपी ने उसे झांसा देकर उसके साथ रेप किया और फिर जब वह गर्भवती हो गई तो आरोपी ने पीड़िता से मिलना बंद कर दिया। बेटी के गर्भवती होने की जानकारी परिवार को हुई तो मामला पुलिस स्टेशन तक पहुंचा और पुलिस ने जांच शुरू की। हालांकि, अभी जांच जारी ही थी कि पीड़िता ने तनाव में आकर सुसाइड कर लिया। बदनामी के डर से लड़की द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या करने की संभावना जताई जा रही है। एक अधिकारी ने बताया कि आरोपी को गुरुवार को नंधरूम गांव से गिरफ्तार किया और उसे अदालत में पेश किया, जहां से उसे 15 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।