TIFR की डराने वाले रिपोर्ट:6 से 13 जनवरी के बीच मुंबई में संक्रमण के मामले होंगे सर्वाधिक, शहर में आज मिले 15 हजार से ज्यादा संक्रमित

मुंबई9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच मुंबई के सीएसएमटी स्टेशन पर जांच करते बीएमसी के कर्मचारी। - Dainik Bhaskar
कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच मुंबई के सीएसएमटी स्टेशन पर जांच करते बीएमसी के कर्मचारी।

टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च (TIFR) के रिसर्चरों का मानना है कि कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ने के बीच मुंबई में 6 से 13 जनवरी के बीच संक्रमण के मामले चरम पर पहुंच सकते हैं और इसमें कमी आने में एक महीने का समय लग सकता है।

टीआईएफआर के आईटी एवं कम्प्यूटर साइंस स्कूल में वरिष्ठ प्रोफेसर संदीप जुनेजा ने कहा कि फरवरी में संक्रमण से सर्वाधिक मौतें हो सकती हैं, लेकिन पिछले वर्ष मार्च से मई के बीच संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान हुई मौतों से 30 से 50 प्रतिशत तक कम होंगी। हालांकि, उन्होंने इस अवधि में संक्रमण के मामलों की संख्या के बारे में कोई टिप्पणी नहीं की। साथ ही उन्होंने कहा, ‘‘लोगों के अस्पताल में भर्ती होने की संख्या भी दूसरी लहर की तुलना में 50-70 प्रतिशत तक कम होने का अनुमान है।’’

जुनेजा ने कहा कि आंकडें टीआईएफआर के मुंबई एबी सिमुलेटर के प्रारंभिक आकलन पर जारी किए गए हैं और ये अनुमान दक्षिण अफ्रीका और ब्रिटेन के आंकडों पर आधारित हैं।

पिछले 24 घंटे के दौरान मिले 15 हजार से ज्यादा संक्रमित

मुंबई में बुधवार को कोरोना वायरस के 15,166 नए केस दर्ज किए गए हैं, वहीं शहर में पॉजिटिविटी रेट 25 फीसदी पर पहुंच गया है। शहर में 87 फीसदी मामले बिना लक्षण वाले हैं। मुंबई में बीते 24 घंटे में 3 लोगों की मौत हुई है। फिलहाल शहर में एक्टिव केस की संख्या 61,923 हो गई है। मुंबई में पिछले दिन के मुकाबले करीब 5 हजार ज्यादा केस दर्ज किए गए हैं। शहर में मंगलवार को कोरोना वायरस के 10,890 केस सामने आए थे। वहीं मुंबई और इसके उपनगर में सार्वजनिक बसों का परिचालन करने वाली बृह्नमुंबई इलेक्ट्रिक सप्लाई (बेस्ट) सेवा के पिछले कुछ दिनों में 66 कर्मी और अधिकारी संक्रमित पाए गए हैं।

कॉर्डेलिया क्रूज पर सवार 209 यात्री अब तक हुए संक्रमित
कॉर्डेलिया क्रूज के 1827 में से 143 यात्री कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव मिले हैं। मंगलवार को मुंबई बीएमसी की टीम ने इनकी टेस्टिंग करवाई थी। इससे पहले क्रूज के 66 यात्री संक्रमित हुए थे। इन्हें लेकर संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 209 पहुंच गया है।

राज्य में अभी 100 प्रतिशत लॉकडाउन की नहीं है जरुरत: स्वास्थ्य मंत्री
महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बुधवार को कहा कि फिलहाल 100 फीसदी लॉकडाउन की जरुरत नहीं है, लेकिन उन्होंने भीड़-भाड़ वाली जगहों पर पाबंदियां लगाने की जरुरत पर बल दिया। राज्य के कोविड-19 कार्यबल और राज्य के स्वास्थ्य, योजना और वित्त विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में टोपे ने कहा कि मंगलवार को राज्य में 16,000 से ज्यादा नये मामले आए थे और बुधवार को यह संख्या बढ़कर 25,000 हो गई। उन्होंने कहा कि इसमें बड़ी बात यह है कि 90 फीसदी मामलों/मरीजों में बीमारी का कोई लक्षण नहीं है, सिर्फ 10 फीसदी मरीजों में लक्षण नजर आ रहे हैं और उनमें से भी महज दो प्रतिशत ऐसे हैं जिन्हें अस्पताल में भर्ती होने की जरुरत है। पिछले दो सप्ताह से राज्य में कोविड-19 के मामलों में बहुत तेजी से वृद्धि हो रही है।

डॉक्टर्स पर पड़ी कोरोना की मार
मुंबई में करीब आधे दर्जन अस्पतालों के करीब 200 रेसिडेंट डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इन अस्पतालों में जेजे अस्पताल, सायन अस्पताल. केईएम अस्पताल, नायर अस्पताल और कूपर अस्पताल के डॉक्टरों के नाम सामने आए हैं। जेजे अस्पताल के 61 डॉक्टर, सायन अस्पताल के 50 डॉक्टर, केईएम अस्पताल के 40 डॉक्टर, नायर अस्पताल के 40 डॉक्टर, कूपर अस्पताल के 7 डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। यह जानकारी सेंट्रल मार्ड के अध्यक्ष डॉ. अविनाश दहिफले ने दी है। मुंबई के अलावा पुणे के ससून अस्पताल में भी 5 और ठाणे में 8 डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। धुले के भी 8 डॉक्टरों को कोरोना हुआ है।

बेस्ट के 60 कर्मचारी कोरोना संक्रमित
मुंबई शहर में दूसरी लाइफ लाइन के नाम से मशहूर बेस्ट बस सेवा के 60 कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इनमें कंडक्टर और ड्राइवर भी शामिल हैं। अब तक 6 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है।

संजय राउत का पूरा परिवार कोरोना संक्रमित
शिवसेना सांसद संजय राउत का भी पूरा परिवार कोरोना संक्रमित हो गया है। संजय राउत के परिवार में उनकी मां, पत्नी, बेटी और भतीजी कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं। इससे पहले आज बीजेपी नेता और विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष प्रवीण दरेकर की रिपोर्ट भी आज पॉजिटिव आई है। राज ठाकरे के घर और ऑफिस ‘शिवतीर्थ’ के तीन कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। कुल 30 कर्मचारियों की कोरोना टेस्टिंग की गई थी। इनमें से एक की पॉजिटिव रिपोर्ट कल ही आ गई थी।

खबरें और भी हैं...