क्रूज ड्रग्स केस में नया खुलासा:नवाब मलिक का दावा-क्रूज पर मौजूद था के भाजपा नेता का भतीजा, NCB की टीम ने उसे हिरासत में लेने के बाद जाने दिया

मुंबई17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मलिक ने कहा कि एनसीबी की कार्रवाई का मकसद उस राज्य को बदनाम करना है, जहां कांग्रेस और राकांपा और भाजपा की पूर्व सहयोगी शिवसेना सत्ता में है। - Dainik Bhaskar
मलिक ने कहा कि एनसीबी की कार्रवाई का मकसद उस राज्य को बदनाम करना है, जहां कांग्रेस और राकांपा और भाजपा की पूर्व सहयोगी शिवसेना सत्ता में है।

क्रूज ड्रग्स मामले में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेता नवाब मलिक आज फिर से एक बड़ा खुलासा कर सकते हैं। मलिक की ओर से दावा किया गया है कि क्रूज पर जिस दौरान नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की टीम ने छापा मारा वहां मुंबई भाजपा के एक बड़े नेता का भतीजा भी मौजूद था। वह भी पार्टी कर रहा था, लेकिन NCB ने उसे हिरासत में लेने के बाद उसे जाने दिया।

माना जा रहा है कि मलिक आज क्रूज के कुछ वीडियो जारी कर इस मामले में बड़ा खुलासा कर सकते हैं।

मलिक का आरोप-दो लोगों को जाने दिया गया
आज के खुलासे पर नवाब मलिक ने बताया, "समीर वानखेड़े ने उस दिन छापेमारी के बाद कहा कि एनसीबी हिरासत में 8-10 लोग थे। बाद में अदालत में एक अधिकारी ने पहले 3 और फिर 5 आरोपियों को पेश किया। छापेमारी करने वाला एक अधिकारी अस्पष्ट बयान दे रहा है या तो यह 8 या 10 था। आज, मुझे पूरा यकीन है कि उस दिन 10 लोगों को हिरासत में लिया गया था। एनसीबी ने 2 लोगों को छोड़ दिया। एक वह व्यक्ति था जिसने छापे के लिए सभी को क्रूज जहाज पर बुलाया लेकिन अंत में हिरासत में लिया गया और दूसरा भाजपा नेता का रिश्तेदार था।"

मलिक बोले-यह सब वानखेड़े के नेतृत्व में हुआ

मलिक ने कहा, "ये सब वानखेड़े के नेतृत्व में हो रहा है। मैं बहुत जिम्मेदारी से बोल रहा हूं, मैं यह साबित करने के लिए शुक्रवार को सबूत जारी करूंगा।" मलिक ने कहा कि एनसीबी की कार्रवाई का मकसद उस राज्य को बदनाम करना है, जहां कांग्रेस और राकांपा और भाजपा की पूर्व सहयोगी शिवसेना सत्ता में है।

उन्होंने कहा, "रिया चक्रवर्ती से लेकर दीपिका पादुकोण, अन्य मशहूर हस्तियों या आर्यन खान तक, एनसीबी केवल वहीं कार्रवाई करेगा जहां पब्लिसिटी मिलेगी. कई मामले फर्जी हैं, जहां कुछ भी बरामद नहीं हुआ है।"