• Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • NCB Brought Its Most Flamboyant Authority To Save Its Credibility In The Drugs Case, Malik Said Wankhede Is Misleading

मुंबई में ड्रग्स:NCB साख बचाने के लिए अपना सबसे तेजतर्रार अधिकारी लाई; मलिक बोले- वानखेड़े गुमराह कर रहे

मुंबईएक महीने पहले

क्रूज ड्रग्स केस और मंत्री नवाब मलिक के दामाद समीर खान की गिरफ्तारी समेत कुल 6 केस अब NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े के हाथ से ले लिए गए हैं। इन केस की जांच अब NCB के DDG, ऑपरेशन संजय सिंह करेंगे। हालांकि, इन केस से समीर वानखेड़े को हटाया नहीं गया है, वे IPS संजय सिंह को लगातार इनमें सहयोग करते रहेंगे। इसकी पुष्टि NCB की मुंबई विंग ने एक आधिकारिक बयान में भी की है।

NCB ने संजय सिंह के अगुआई में एक SIT गठित की है। यह टीम आज ही दिल्ली से मुंबई पहुंच रही है। कहा जा रहा है कि नवाब मलिक की ओर से NCB पर लगाए आरोप के बाद अपनी साख बचाने के लिए NCB ने अपने सबसे तेजतर्रार अधिकारी को मैदान में उतारा है। कहा जा रहा है कि अब इन केस में कुछ और बड़े खुलासे हो सकते हैं।

NCB के उप महानिदेशक (उत्तर-पश्चिम क्षेत्र) मुथा अशोक जैन ने बताया कि यह कार्रवाई प्रशासनिक आधार पर की गई है और चूंकि इन छह मामलों के व्यापक और अंतरराज्यीय प्रभाव हैं, इसलिए उन्हें दिल्ली में ऑपरेशन यूनिट में स्थानांतरित कर दिया गया है। कई पर्सनल और सर्विस संबंधी आरोपों का सामना कर रहे वानखेड़े जोनल डायरेक्टर बने रहेंगे।

ड्रग्स मामले के एक्सपर्ट माने जाते हैं संजय सिंह
संजय सिंह 1996 बैच के ओडिशा कैडर के सीनियर IPS ऑफिसर हैं। उन्होंने कई अहम पद संभाले हैं। उन्हें ओडिशा पुलिस में एडिशनल कमिश्नर अपॉइंट किया गया था। इसके बाद उन्हें ओडिशा पुलिस में ही IG की जिम्मेदारी दी गई थी। उनके शानदार काम को देखते हुए सरकार ने उन्हें CBI में DIG के रूप में नियुक्त कर दिया। अभी वे NCB के ADG (ऑपरेशन) के पद पर हैं। संजय सिंह कई बड़े ड्रग्स केस की जांच कर चुके हैं। उन्होंने ड्रग्स केस एक्सपर्ट भी कहा जाता है। उन्होंने ओडिशा कमिश्नरेट में ड्रग-विरोधी टास्क फोर्स की अगुआई भी की है।

इन 6 ड्रग्स केस को लीड करेंगे संजय सिंह

1) क्रूज ड्रग्स केस (आर्यन खान केस)।

2) समीर खान केस (नवाब मलिक के दामाद का केस)।

3) अभिनेता अरमान कोहली ड्रग्स केस।

4) मुंब्रा एमडी ड्रग्स केस।

5) जोगेश्वरी 1 किलो चरस केस।

6) डोंगरी एमडी ड्रग्स केस।

केस से हटाए जाने पर वानखेड़े ने दी सफाई
वानखेड़े ने अपनी सफाई में कहा है कि आर्यन खान केस की जांच से उन्हें हटाया नहीं गया है। कोर्ट में मैंने खुद याचिका देकर इसकी जांच केंद्रीय एजेंसी से कराने की मांग की थी। इसलिए आर्यन और समीर खान केस की जांच अब दिल्ली NCB की SIT करेगी। यह दिल्ली और मुंबई की NCB टीमों के बीच एक समन्वय है।

NCB के एक और अधिकारी से पूछताछ
आर्यन केस में NCB के इंस्पेक्टर आशीष रंजनप्रसाद से दिल्ली में दो दिन NCB विजिलेंस टीम ने पूछताछ की है। उनसे कई घंटे तक पूछताछ हुई है। यह दूसरी बार है जब आशीष रंजन प्रसाद से NCB विजिलेंस टीम की पूछताछ है। इससे पहले मुंबई में कई घंटे उनसे सवाल पूछे गए थे।

नवाब मलिक बोले- गुमराह कर रहे वानखेड़े
वानखेड़े के इस बयान के बाद नवाब मलिक ने ट्वीट कर कहा है कि या तो ANI (न्यूज एजेंसी) समीर वानखेड़े को गलत तरीके से कोट कर रहा या फिर समीर वानखेड़े देश को गुमराह कर रहे हैं। NCP के वरिष्ठ नेता ने कहा है कि समीर वानखेड़े की ओर से अदालत में याचिका दायर कर ये कहा गया था कि उनके खिलाफ जबरन वसूली और भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) या राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) की ओर से की जानी चाहिए। नवाब मलिक ने ये प्रतिक्रिया ANI के उस ट्वीट को रिट्वीट करते हुए व्यक्त की है जिसमें आर्यन और समीर खान के ड्रग्स केस से हटाए जाने को लेकर समीर वानखेड़े ने बयान दिया है।

खबरें और भी हैं...