पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

महिला डॉक्टर के कमरे में स्पाई कैमरा:बल्ब के होल्डर में छिपा कर रखा गया था स्पाई कैमरा, अगर लाइट नहीं जाती तो पता ही नहीं चलता और होती रहती रिकॉर्डिंग

पुणे3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इस मामले भारती विद्यापीठ पुलिस स्टेशन में अज्ञात शख्स के खिलाफ केस दर्ज हुआ है। - Dainik Bhaskar
इस मामले भारती विद्यापीठ पुलिस स्टेशन में अज्ञात शख्स के खिलाफ केस दर्ज हुआ है।

पुणे के एक नामचीन प्राइवेट हॉस्पिटल में काम करने वाली महिला डॉक्टर के सर्विस क्वार्टर में स्पाई कैमरा छिपाने का मामला सामने आया है। यह सर्विस क्वार्टर हॉस्पिटल की ओर से ही दिया गया था। डॉक्टर को मामले की जानकारी तब हुई, जब लाइट चली गई और उन्होंने ठीक करने के लिए एक इलेक्ट्रीशियन को बुलाया।

30 वर्षीय महिला डॉक्टर की शिकायत पर इस मामले में भारती विद्यापीठ पुलिस स्टेशन में अज्ञात शख्स के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। पुलिस ने बेडरूम और बाथरूम में लगे दोनों कैमरे और उनमें लगे SD कार्ड बरामद कर लिए हैं।

ऐसे हुआ मामले का खुलासा

पुलिस के मुताबिक, शिकायतकर्ता अस्पताल के सर्विस क्वार्टर में एक अन्य महिला डॉक्टर के साथ रहती है। मंगलवार शाम महिला डॉक्टर अस्पताल से काम खत्म कर जब वापस घर आई तो वो नहाने के लिए कमरे में गई। उसने लाइट का स्विच ऑन किया लेकिन बेडरूम और बाथरूम की लाइट नहीं जली। जिसके बाद डॉक्टर ने एक इलेक्ट्रीशियन को बुलाया। जब इलेक्ट्रीशियन ने बाथरूम में बल्ब होल्डर को चेक करने के लिए खोला तो उसने देखा कि अंदर एक कैमरा लगा हुआ। जब उसने स्पाई कैमरा निकाला तो उसमें से एक मेमोरी कार्ड भी मिला। बाद में जब बेडरूम के बल्ब का होल्डर खोला गया तो वहां भी ऐसा ही एक कैमरा और मेमोरी कार्ड मिला। जिसके बाद महिला डॉक्टर ने पुलिस स्टेशन में जाकर इस मामले की शिकायत दर्ज करवाई।

जांच में जुटी पुलिस की एक टीम

पुलिस उपायुक्त सागर पाटिल ने कहा, 'हम इस मामले में जांच कर रहे हैं। इस पूरी बिल्डिंग में कहीं भी सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा है। वहीं, जब हमने इस मामले में गार्ड से बात की तो उसने बताया कि कोई भी बाहरी व्यक्ति क्वार्टर के अंदर नहीं जाता है।' पाटिल ने आगे कहा कि मामला गंभीर है और हमने क्राइम ब्रांच की टीम को भी इस मामले में जांच के लिए लगाया है।