64 दिन बाद जेल से बाहर निकले कुंद्रा का हाल:चेहरे पर थी मायूसी, कार में भी छिपाते नजर आये अपना चेहरा; मीडिया के सवालों पर पकड़ लिया अपना माथा

मुंबई9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जेल से बाहर निकले राज कुंद्रा के माथे पर लाल टीका लगा हुआ था, लेकिन उनके चेहरे पर मायूसी साफ झलक रही थी। - Dainik Bhaskar
जेल से बाहर निकले राज कुंद्रा के माथे पर लाल टीका लगा हुआ था, लेकिन उनके चेहरे पर मायूसी साफ झलक रही थी।

पोर्नोग्राफी केस में 19 जुलाई को गिरफ्तार होने के बाद सलाखों के पीछे कैद बिजनेसमैन राज कुंद्रा मंगलवार दोपहर भायखला जेल से बाहर निकले। अंधेरी मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट कोर्ट ने कुंद्रा को 50 हजार के मुचलके पर जमानत दी है। हालांकि, उन्हें शहर से बाहर जाने से पहले स्थानीय पुलिस को इसकी जानकारी देनी होगी।

कार में भी कुंद्रा मीडिया के कैमरे से बचते हुए नजर आये।
कार में भी कुंद्रा मीडिया के कैमरे से बचते हुए नजर आये।

जेल से कुंद्रा जींस पैंट और टी शर्ट पहनकर बाहर निकले। माथे पर उनके लाल रंग का टीका था और चेहरे पर मायूसी साफ झलक रही थी। बाहर निकलते ही मीडियाकर्मियों ने उनपर सवालों की बौछार कर दी, लेकिन कुंद्रा बिना कुछ बोले सीधे अपनी कार में बैठ गए। कार में भी वे मीडिया के कैमरों से बचते हुए नजर आये।

जेल से बाहर आने के बाद कुंद्रा लगातार मीडिया के सवालों से बचते हुए नजर आये।
जेल से बाहर आने के बाद कुंद्रा लगातार मीडिया के सवालों से बचते हुए नजर आये।

अदालत में कुंद्रा ने कहा-बलि का बकरा बनाया जा रहा

इससे पहले कुंद्रा ने अपनी जमानत अर्जी में दावा किया था कि इस मामले में मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच ने सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल की है, जिसमें उनके खिलाफ कोई सबूत नहीं है। कथित संदिग्ध पोर्न कॉन्टेंट बनाने में सक्रिय रूप से शामिल होने का भी उनके खिलाफ कोई सबूत नहीं है। उन्हें सिर्फ बलि का बकरा बनाया जा रहा है। कोर्ट ने बचाव पक्ष और अभियोजन पक्ष की दलीलें सुनने के बाद कुंद्रा को जमानत दे दी।

कुंद्रा को जेल से घर लाने के लिए उनके परिवार के कुछ सदस्य पहुंचे हुए थे। हालांकि, इसमें शिल्पा शेट्ठी शामिल नहीं थीं।
कुंद्रा को जेल से घर लाने के लिए उनके परिवार के कुछ सदस्य पहुंचे हुए थे। हालांकि, इसमें शिल्पा शेट्ठी शामिल नहीं थीं।

कुंद्रा और थोर्प ने अपनी गिरफ्तारी के खिलाफ मुंबई हाई कोर्ट तक का दरवाजा खटखटाया था। कुंद्रा अपने खिलाफ अक्टूबर, 2020 में दर्ज अन्य मामले में भी हाई कोर्ट से अंतरिम राहत की गुहार लगा चुके हैं।

मीडिया के सवालों से परेशान कुंद्रा माथे पर हाथ फेरते हुए नजर आये।
मीडिया के सवालों से परेशान कुंद्रा माथे पर हाथ फेरते हुए नजर आये।
भीड़ से बचने के लिए कुंद्रा को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।
भीड़ से बचने के लिए कुंद्रा को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।
खबरें और भी हैं...