• Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Sam D'Saju Reveals Kiran Gosavi And Prabhakar Sail Took 50 Lakh Rupees From Shahrukh's Staff To Leave Aryan

ड्रग्स केस में नया ट्विस्ट:सैम डिसूजा का दावा- आर्यन को छोड़ने के लिए गोसावी और प्रभाकर ने शाहरुख के स्टाफ से लिए थे 50 लाख रु.

मुंबई7 महीने पहले

क्रूज ड्रग्स केस में सोमवार को फिर एक नया ट्विस्ट आ गया। इस केस में गवाह रहे सैम डिसूजा कई दिनों बाद अचानक ABP न्यूज चैनल के सामने आया और उसने यह दावा किया कि आर्यन मामले में शाहरुख खान के स्टाफ और गवाह बने कुछ लोगों के बीच डील हुई थी। सैम ने बताया कि इस डील में किरण गोसावी और प्रभाकर सइल का हाथ था। दोनों ने शाहरुख की मैनेजर पूजा ददलानी से 50 लाख रुपए टोकन मनी के तौर पर लिया था।

गोसावी के बॉडीगार्ड प्रभाकर ने कही थी 25 करोड़ रुपए की बात
इससे पहले प्रभाकर सइल ने दावा किया था कि उसने केपी गोसावी और सैम डिसूजा को आर्यन खान केस के मामले में 25 करोड़ रुपए की डील पर बात करते सुना था। प्रभाकर का दावा था कि गोसावी और सैम ने कथित तौर पर 8 करोड़ रुपए NCB अधिकारी समीर वानखेड़े को देने की बात कही थी। इसी आरोप पर सैम ने सफाई दी है।

इसलिए शाहरुख के स्टाफ को वापस किए पैसे
सैम के मुताबिक, उन्हें इस बात का शक हो गया था कि प्रभाकर और गोसावी मिलकर कोई खेल खेल रहे हैं, इसलिए उसने इस पैसे को पूजा ददलानी को वापस करवा दिया। सैम ने यह भी बताया कि NCB के अधिकारियों को इस डील की कोई जानकारी नहीं थी। सैम ने यह भी आरोप लगाया कि किरण गोसावी और प्रभाकर ने मिलकर यह पूरा खेल रचा था।

सैम डिसूजा ने बताया कि किरण गोसावी ने आर्यन के कहने पर मैनेजर पूजा ददलानी से उनकी बात करवाई थी। यह तस्वीर उसी दौरान की है।
सैम डिसूजा ने बताया कि किरण गोसावी ने आर्यन के कहने पर मैनेजर पूजा ददलानी से उनकी बात करवाई थी। यह तस्वीर उसी दौरान की है।

आर्यन ने पूजा को भेजा था 'वॉयस नोट'

सैम ने बताया कि उन्हें तीन तारीख की सुबह पता चला कि यह आर्यन खान है। आर्यन खान ने ही उन्हें पूजा ददलानी से बात करवाने के लिए कहा था। उस गोसावी ने कहा था कि आर्यन एक दम क्लीन है और हमें उसकी मदद करनी है। मैंने कन्फ़र्मेशन नहीं दिया कि मैं हेल्प करूंगा, मैंने सिर्फ इतना कहा कि हम ट्राई कर सकते हैं। गोसावी ने आर्यन खान का एक सिल्वर बैग भी दिखाया था। इसके बाद किरण गोसावी के मोबाइल पर आर्यन ने एक वॉयस रिकॉर्ड किया था। ​आर्यन ने इसे वॉयस नोट में कहा था 'पापा, मैं एनसीबी में हूं'। फिर किरण गोसावी मोबाइल फोन लेकर एनसीबी ऑफिस से बाहर आ गया।"

ऐसे हुआ गोसावी के फ्रॉड का खुलासा

सैम ने आगे बताया कि मुझे सुनिल पाटिल के जरिए पता चला था कि किरण गोसावी ने पैसे लिए थे। यह डील NCB के ऑफिसर ने नहीं की थी। मेरे पास इसके गवाह भी हैं। गोसावी ने प्रभाकर सइल का नाम 'SW' से सेव कर आपस में बात की थी और हमें दिखाया था कि यह NCB अधिकारी की ओर से पैसे के लिए दबाव आ रहा है। इसके बाद फोन कटते ही 'ट्रू कॉलर' पर प्रभाकर नाम उभर कर आया और हमें तभी पता चला कि प्रभाकर और किरण गोसावी कोई खेल कर रहे हैं।' इसके बाद हमने हमने गालिगालैज करके उनके(शाहरुख) पैसे वापस करवाए। पैसे तीन पर में आये थे। पहले 36 लाख, फिर 5 लाख और फिर कुछ और कैश आया था।

इस फोटो में गोसावी NCB अधिकारी समीर वानखेड़े के ठीक पीछे खड़ा नजर आ रहा है। यह फोटो क्रूज पर रेड वाले दिन यानी 2 अक्टूबर की बताई जा रही है।
इस फोटो में गोसावी NCB अधिकारी समीर वानखेड़े के ठीक पीछे खड़ा नजर आ रहा है। यह फोटो क्रूज पर रेड वाले दिन यानी 2 अक्टूबर की बताई जा रही है।

किरण गोसावी 2018 के धोखाधड़ी के एक मामले में पुणे पुलिस की कस्टडी में है। सैम डिसूजा ने कहा कि किरण गोसावी ने मुझे बताया कि आर्यन खान के पास कोई ड्रग्स नहीं है। इसलिए उन्होंने मुझे उनकी मदद करने के लिए कहा। जैसा कि मामला साफ था, हम उस समय मध्यस्थता करने के लिए सहमत हुए।

सुनील पाटिल नाम के शख्स ने दी थी टिप
सैम ने यह भी बताया कि उनका इस वसूली मामले से कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा कि उनके पास सुनील पाटिल नाम के एक शख्स का फोन आया था। उसी ने क्रूज पर ड्रग्स पार्टी होने की टिप NCB को दी थी। सैम के मुताबिक पाटिल एक पावर ब्रोकर है। इसके ब्यूरोक्रेसी में अच्छे कॉन्ट्रैक्ट है। सुनील पाटिल ने ही NCB के अधिकारी विश्व विजय सिंह से बात की थी।

खबरें और भी हैं...