पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • Shiv Sena Ravi Kishan | ShivSena Mouthpiece Saamana News On Gorakhpur BJP MP Ravi Kishan, And Jaya Bachchan

शिवसेना का इशारों में रवि किशन पर निशाना:सामना की संपादकीय में लिखा- खुद गंदगी खाकर दूसरों के मुंह को गंदा बताने का काम चल रहा है, जया बच्चन की तारीफ के पुल बांधे

मुंबई9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सांसद रवि किशन(बाएं) ने लोकसभा में ड्रग्स एंगल की जांच करवाने की बात कही थी। शिवसेना सांसद संजय राउत (दाएं) सामना के कार्यकारी संपादक हैं।
  • जया बच्चन ने संसद में बिना नाम लिए रवि किशन के लिए कहा था- कुछ लोग जिस थाली में खाते हैं उसमें छेद करते हैं

संसद में बॉलीवुड के ड्रग्स एंगल को लेकर भाजपा सांसद रवि किशन पर निशाना साधने वाली राज्यसभा सांसद जया बच्चन के समर्थन में शिवसेना आगे आई है। पार्टी ने मुखपत्र सामना की संपादकीय में वेटरन एक्ट्रेस जया बच्चन की जमकर तारीफ की है। वहीं, बिना नाम लिए इशारों में रवि किशन पर निशाना साधा है। पार्टी ने लिखा है कि बॉलीवुड में एक से एक बढ़िया कलाकारों ने यहां योगदान दिया है। यहां लोग सिर्फ गटर में लेटते थे और ड्रग्स लेते थे, ऐसा अगर कोई दावा कोई कर रहा है तो ऐसी बकवास करने वालों का मुंह पहले सूंघना चाहिए। खुद गंदगी खाकर दूसरों के मुंह को गंदा बताने का काम चल रहा है।

दरअसल, गोरखपुर से भाजपा सांसद रवि किशन ने सोमवार को लोकसभा में कहा था कि पाकिस्तान और चीन से ड्रग्स की तस्करी की जाती है। ड्रग्स का शिकार बॉलीवुड भी है। बॉलीवुड में ड्रग्स की लत कई लोगों को हैं। मैं केंद्र से अपील करता हूं वह इस पर कार्रवाई करे। वहीं, मंगलवार को सपा की राज्यसभा सांसद जया बच्चन ने बिना नाम लिए रवि किशन पर पलटवार किया था। जया बच्चन ने कहा था कि लोकसभा के हमारे एक सदस्य के कल दिए बयान के लिए शर्मिंदा हूं। वह फिल्म इंडस्ट्री से आते हैं और इसी के खिलाफ बोल रहे थे। कुछ लोग जिस थाली में खाते हैं, उसी में छेद करते हैं।

सामना में शिवसेना ने लिखा-

  • हिन्दुस्तान का सिने जगत पवित्र गंगा की तरह निर्मल है, ऐसा दावा कोई नहीं करेगा। लेकिन जैसा कि कुछ टीन-पाट कलाकार दावा करते हैं कि सिने जगत ‘गटर’ है, ऐसा भी नहीं कहा जा सकता। जया बच्चन ने संसद में इसी पीड़ा को व्यक्त किया है। जिन लोगों ने सिनेमा जगत से नाम-पैसा सब कुछ कमाया। वे अब इस क्षेत्र को गटर की उपमा दे रहे हैं।
  • जया बच्चन की बात बेबाक है। ये लोग जिस थाली में खाते हैं, उसी में छेद करते हैं। उन्होंने अपने राजनीतिक और सामाजिक विचारों को कभी छुपाकर नहीं रखा। महिलाओं पर अत्याचार के संदर्भ में उन्होंने संसद में बहुत भावुक होकर आवाज उठाई है।
  • मनोरंजन उद्योग रोज पांच लाख लोगों को रोजगार देता है। फिलहाल अर्थव्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है और जब ‘लाइट, कैमरा, एक्शन’ बंद है, लोगों का ध्यान मुख्य मुद्दों से हटाने के लिए हमें (मतलब बॉलीवुड को) सोशल मीडिया पर बदनाम किया जा रहा है। ऐसा जया बच्चन ने कहा है। कुछ अभिनेता-अभिनेत्रियां ही पूरा बॉलीवुड नहीं है। लेकिन उनमें से कुछ लोग जो अनियंत्रित बयान दे रहे हैं, यह सब घृणास्पद है।
  • सिने जगत के छोटे-बड़े हर कलाकार या तकनीशियन मानो ‘ड्रग्स’ के जाल में अटके हुए हैं, 24 घंटे वे गांजा और चिलम पीते हुए दिन बिता रहे हैं, ऐसा बयान देने वालों का ‘डोपिंग’ टेस्ट होना चाहिए, क्योंकि इनमें से बहुतों के खाने के और दिखाने के दांत अलग हैं।
  • जिन दादासाहेब फाल्के ने हिंदुस्तान सिने जगत की नींव रखी, वह महाराष्ट्र के ही हैं। दादासाहेब फाल्के ने बहुत मेहनत करके इस साम्राज्य को मूर्त रूप दिया। ‘राजा हरिश्चंद्र’ और ‘मंदाकिनी’ जैसी ‘मूक फिल्मों’ से हुई हिंदी सिने जगत की शुरुआत आज जिस शिखर तक पहुंची है, वो कई लोगों की मेहनत के कारण ही। जो अपनी प्रतिभा और कला दिखाएगा, वही यहां टिकेगा।
  • एक जमाना सहगल और देविका रानी का था। आज भी अमिताभ बच्चन महानायक पद पर विराजमान हैं। कभी उस जगह पर राजेश खन्ना थे। धर्मेंद्र, जीतेंद्र, देव आनंद, पूरा कपूर खानदान, वैजयंती माला से लेकर हेमा मालिनी और माधुरी दीक्षित से लेकर ऐश्वर्या राय तक, एक से एक बढ़िया कलाकारों ने यहां योगदान दिया है। बॉक्स ऑफिस को हमेशा चलायमान रखने के लिए आमिर, शाहरुख और सलमान जैसे लोगों की भी मदद हुई ही है।
  • ये सारे लोग सिर्फ गटर में लेटते थे और ड्रग्स लेते थे, ऐसा दावा कोई कर रहा होगा तो ऐसी बकवास करने वालों का मुंह पहले सूंघना चाहिए। खुद गंदगी खाकर दूसरों के मुंह को गंदा बताने का काम चल रहा है। इस विकृति पर ही जया बच्चन ने हमला किया है।

जया बच्चन ने कहा था-जिस थाली में लोग खाते हैं उसी में छेद करने का काम किया जा रहा है

मानसून सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को राज्यसभा में जया बच्चन ने किसी का भी नाम लिए बिना कहा, 'फिल्म इंडस्ट्री में नाम कमाने वाले उसी को गटर कह रहे हैं। मुझे उम्मीद है कि सरकार ऐसे लोगों से कहे कि वे इस तरह की भाषा का इस्तेमाल नहीं करें।' उन्होंने आगे कहा था, 'कुछ लोगों की वजह से आप पूरे इंडस्ट्री की छवि को धूमिल नहीं कर सकते। मुझे शर्म आती है कि कल लोकसभा में हमारे एक सदस्य, जो फिल्म उद्योग से हैं, उन्होंने इसके खिलाफ बोला। यह शर्मनाक है। आप जिस थाली में खाते हैं उसमें छेद नहीं कर सकते हैं।'

इस पर कंगना ने कहा कि आपका बेटा फंदे पर झूला होता तो भी क्या आप यही बयान देतीं। रवि किशन ने कहा कि जया जी से ऐसी उम्मीद नहीं थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप भावनात्मक रूप से सशक्त रहेंगे। ज्ञानवर्धक तथा रोचक कार्यों में समय व्यतीत होगा। परिवार के साथ धार्मिक स्थल पर जाने का भी प्रोग्राम बनेगा। आप अपने व्यक्तित्व में सकारात्मक रूप से परिवर्तन भ...

और पढ़ें