IT रेड पर सोनू सूद की सफाई:एक्टर बोले- जरूरतमंदों की मदद करता रहूंगा, मेरी कहानी वक्त बताएगा; कर भला तो हो भला

मुंबईएक महीने पहले
सोनू सूद ने कहा कि मैंने अपनी पूरी ताकत और दिल से भारत के लोगों की सेवा करने का प्रण लिया है। मेरे फाउंडेशन का एक-एक रुपया कीमती जिंदगी बचाने और जरूरतमंदों के लिए है।

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की चार दिन तक चली रेड के बाद पहली बार अभिनेता सोनू सूद की सफाई सोशल मीडिया में सामने आई है। सोनू ने ट्वीट में लिखा है, 'हर बार आपको अपनी तरफ की स्टोरी नहीं बतानी पड़ती है। वक्त बताएगा।' सोनू ने पोस्ट की शुरुआत में लिखा, 'सख्त राहों में भी आसान सफर लगता है, हर हिंदुस्तानी की दुआओं का असर लगता है।'

मैंने एक-एक पैसा जरूरतमंदों को दिया
अपने पोस्ट में सोनू लिखते हैं...

  • मैंने अपनी पूरी ताकत और दिल से भारत के लोगों की सेवा करने का प्रण लिया है। मेरे फाउंडेशन का एक-एक रुपया कीमती जिंदगी बचाने और जरूरतमंदों के लिए है।
  • इसके साथ ही कई मौकों पर मैंने विज्ञापन के ब्रांड्स को प्रोत्साहित किया है कि वे मेरी फीस को मानवता की सेवा में डोनेट करें, ताकि कभी पैसे की कमी न पड़े।'
  • मैं कुछ मेहमानों की आवभगत करने में व्यस्त था और इसलिए 4 दिनों से आपकी सेवा के लिए उपलब्ध नहीं था। अब मैं एक बार फिर पूरी विनम्रता के साथ आपकी सेवा में जिंदगीभर के लिए वापस आ गया हूं।
  • कर भला, हो भला, अंत भले का भला। मेरा सफर जारी रहेगा। जय हिंद।'

इस ट्वीट का जवाब देते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कहा, 'सोनू जी को और ताकत। आप लाखों भारतीयों के हीरो हैं।'

अभिनेता सोनू सूद ने सोशल मीडिया पर अपना बयान पोस्ट किया।
अभिनेता सोनू सूद ने सोशल मीडिया पर अपना बयान पोस्ट किया।

सोनू सूद पर लगा है 20 करोड़ की टैक्स चोरी का आरोप
इससे पहले इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने आरोप लगाया था कि सोनू सूद और उनके सहयोगियों ने 20 करोड़ रुपए की टैक्स चोरी की है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने भी यह आरोप लगाया है कि जब आयकर विभाग ने सोनू सूद और उनसे जुड़े लखनऊ स्थित ग्रुप के परिसरों पर छापा मारा, तो यह पाया गया कि उन्होंने अपनी बिना हिसाब की आय को कई फर्जी संस्थाओं से फर्जी असुरक्षित ऋण के रूप में दिखाया है। विभाग ने सूद पर विदेशों से चंदा जुटाने के दौरान विदेशी अंशदान विनियमन अधिनियम (FCRA) के उल्लंघन करने का भी आरोप लगाया है।

AAP के एक प्रोजेक्ट में ब्रांड एंबेसडर हैं सोनू
सोनू सूद को हाल ही में स्कूली बच्चों के लिए दिल्ली सरकार के अभियान के लिए ब्रांड एंबेसडर के रूप में चुना गया है। सोशल मीडिया में सवाल उठाया जा रहा है कि क्या यह रेड 'AAP' के साथ करीबी का ही परिणाम है? सोनू सूद हमेशा से राजनीति में जाने से इनकार करते रहे हैं। हालांकि आम आदमी पार्टी के नेताओं की बैठक के बाद चर्चा थी कि सोनू सूद राजनीति में प्रवेश करेंगे।

सोनू सूद की यह तस्वीर आप पार्टी के एक कार्यक्रम में शामिल होने के दौरान की है।
सोनू सूद की यह तस्वीर आप पार्टी के एक कार्यक्रम में शामिल होने के दौरान की है।

लॉकडाउन में खूब बंटोरी थीं सुर्खियां
48 वर्षीय सोनू सूद कोरोना संक्रमण के बाद लगे लॉकडाउन के दौरान काफी सुर्खियों में आए थे। उन्होंने लॉकडाउन में फंसे और मुंबई में रह रहे कई प्रवासियों को उनके घर पहुंचाने में मदद की थी। इतना ही नहीं, उन्होंने कई लोगों के रहने और खाने के साथ काम का भी इंतजाम किया था। लॉकडाउन के दौरान उनके कामों की सोशल मीडिया में खूब सराहना हुई थी। सोनू सूद के पॉलिटिक्स में आने की भी खूब चर्चा हुई थी। हालांकि हर बार उन्होंने यही कहा कि वे राजनीति में नहीं आ रहे हैं।