• Hindi News
  • Local
  • Maharashtra
  • The Shopkeeper Asked A Marathi Writer To Speak In Hindi; The Angry Woman Staged A Protest Outside The Shop The Whole Night; MNS Workers Beat Shopkeeper

मराठी VS हिन्दी विवाद:ज्वैलर ने मराठी लेखिका से हिन्दी में बोलने को कहा, नाराज महिला ने पूरी रात दुकान के बाहर धरना दिया; मनसे कार्यकर्ताओं ने दुकानदार को पीटा

मुंबईएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शुक्रवार सुबह शिवसेना और मनसे के नेता महिला को मनाने के लिए दुकान के बाहर पहुंचे थे। - Dainik Bhaskar
शुक्रवार सुबह शिवसेना और मनसे के नेता महिला को मनाने के लिए दुकान के बाहर पहुंचे थे।

मुंबई में हैरान करने वाला एक मामला सामने आया है। यहां एक ज्वैलरी शॉप पर गई मराठी लेखिका शोभा देशपांडे (75) को दुकानदार ने मराठी में बात करने पर टोका। इससे नाराज शोभा देशपांडे गुरुवार शाम से शुक्रवार सुबह तक धरने पर बैठी रहीं। शुक्रवार को मनसे के कार्यकर्ता यहां पहुंचे और दुकानदार की पिटाई कर महिला से माफी मंगवाई।

घटना मुंबई के कोलाबा इलाके की है। यहां के महावीर ज्वैलर्स पर शोभा देशपांडे कुछ खरीदने के लिए पहुंची थीं। दुकान पर पहुंचने पर उन्होंने मराठी में बात करनी शुरू की। जिस पर दुकान में मौजूद व्यक्ति ने कहा कि उन्हें मराठी नही आती, वे हिंदी में बात करें।

शोभा देशपांडे ने ऐतराज जताया, फिर बात आगे बढ़ गई और उस व्यक्ति ने उन्हें दुकान से चले जाने के लिए बोला। इस बात से नाराज होकर शोभा ने दुकान के सामने पूरी रात धरना दिया।

बुजुर्ग लेखिका इसी तरह दुकान के बाहर लेटी रही।
बुजुर्ग लेखिका इसी तरह दुकान के बाहर लेटी रही।

लेखिका ने कहा- मेरा अपमान हुआ
लेखिका शोभा देशपांडे ने कहा कि दुकानदार ने मुझसे बदतमीजी से बात की और पुलिस को बुलाकर मुझे दुकान से बाहर करवा दिया। ग्राहकों से पेश आने का यह तरीका बिल्कुल गलत है। इसलिए मैं वहां धरने पर बैठी।

शोभा देशपांडे ने सीएम ठाकरे से की बात
मनसे कार्यकर्ताओं द्वारा दुकानदार की पिटाई के बाद शिवसेना नेता अरविंद सावंत भी शोभा देशपांडे के घर गए और उन्होंने उनकी बात मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से करवाई। फिलहाल मामले को शांत करा दिया गया है।

दुकानदार ने महिला से हाथ जोड़कर माफी मांगी।
दुकानदार ने महिला से हाथ जोड़कर माफी मांगी।
खबरें और भी हैं...