मुंबई / 91 साल के ट्रेड यूनियन लीडर पुरुषोत्तम नारायण ने खुदकुशी की, सुसाइड नोट में लिखा- बीमारी से परेशान हूं

ट्रेड यूनियन लीडर पुरुषोत्तम नारायण। फाइल फोटो ट्रेड यूनियन लीडर पुरुषोत्तम नारायण। फाइल फोटो
X
ट्रेड यूनियन लीडर पुरुषोत्तम नारायण। फाइल फोटोट्रेड यूनियन लीडर पुरुषोत्तम नारायण। फाइल फोटो

  • पुरुषोत्तम नारायण ट्रेड यूनियन नेता दत्ता सामंत के बड़े भाई और महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री जितेंद्र आव्हाड के ससुर थे
  • पुलिस ने बताया कि मौके से एक सुसाइड नोट मिला, जिसमें उन्होंने बीमारी से परेशान होने की बात लिखी है

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:01 PM IST

मुंबई. महाराष्ट्र की राजनीति में 'दादा' के नाम से मशहूर महाराष्ट्र ट्रेड यूनियन के लीडर पुरुषोत्तम नारायण सामंत ने 91 वर्ष की उम्र में खुदकुशी कर ली। शुक्रवार को पुरुषोत्तम नारायण का शव बोरीवली स्थित उनकी बड़ी बेटी के घर से बरामद हुआ। पुलिस ने बताया कि नारायण सामंत का शव शुक्रवार सुबह घर में फांसी से लटका पाया गया। 

पुलिस ने बताया कि मौके से दादा सामंत का एक सुसाइड नोट मिला है। इसमें लिखा है कि वह निजी स्वास्थ्य मुद्दों से आजिज आ गए थे। पुलिस ने किसी गड़बड़ी और साजिश से भी इनकार किया। साथ ही, कहा कि वह कोरोना संक्रमित नहीं थे।

पुरुषोत्तम नारायण सामंत लगातार मजदूरों की आवाज उठाते रहे थे। 1982 से 1983 के बीच हुई टैक्सटाइल स्ट्राइक में भी उनकी महत्वपूर्ण भूमिका मानी जाती है। वे ट्रेड यूनियन नेता दत्ता सामंत के बड़े भाई और महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री जितेंद्र आव्हाड के ससुर थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना