पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भंडारा के NICU में आग का मामला:2 नर्सों के खिलाफ गैरइरादतन हत्या का केस दर्ज, 12 मिनट बाद वार्ड में पहुंची थीं; 10 नवजात की जलकर हुई थी मौत

मुंबई17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भंडारा के पुलिस अधीक्षक वंसत जाधव ने इस मामले में जांच की है। यह तस्वीर तब की है जब राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख हॉस्पिटल का दौरा करने पहुंचे थे। देशमुख ने इस मामले में कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया था। - Dainik Bhaskar
भंडारा के पुलिस अधीक्षक वंसत जाधव ने इस मामले में जांच की है। यह तस्वीर तब की है जब राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख हॉस्पिटल का दौरा करने पहुंचे थे। देशमुख ने इस मामले में कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया था।

9 जनवरी को भंडारा जिला हॉस्पिटल के न्यूबॉर्न केयर यूनिट में हुई 10 नवजातों की मौत के मामले में 2 नर्सों पर आपराधिक लापरवाही का केस दर्ज किया गया है। महाराष्ट्र के DGP हेमंत नागराले ने बताया कि इस मामले में भंडारा पुलिस स्टेशन में नर्सें शुभांगी सथावने और स्मिता अम्बिल्धुके के खिलाफ IPC की धारा 304 (गैर इरादतन हत्या) का केस दर्ज किया गया है।

आग लगने के 12 मिनट बाद तक वार्ड में नहीं पहुंची नर्सें
भंडारा के पुलिस अधीक्षक वंसत जाधव ने इस मामले में जांच की है। उनकी जांच में सामने आया है कि SNCU में आग लगने के 12 मिनट तक नर्स वहां पर नहीं पहुंची थीं। मुंबई की कालीना स्थित फॉरेंसिक लैब द्वारा SNCU के CCTV DVR की जांच में इस बात का खुलासा हुआ है। इस बात की जांच जारी है कि घटना के समय दोनों नर्स कहां पर थीं।

भंडारा में नौ जनवरी को देर रात दर्दनाक हादसा हुआ। रात दो बजे भंडारा के जिला अस्पताल के बीमार नवजात देखभाल इकाई (SNCU) में आग लगने से दस शिशुओं की मौत हो गई। यूनिट से सात शिशुओं को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया।

इस दुर्घटना में 10 बच्चों को हॉस्पिटल से सही सलामत बाहर निकाला गया।
इस दुर्घटना में 10 बच्चों को हॉस्पिटल से सही सलामत बाहर निकाला गया।

बच्चों का शरीर पड़ गया था काला
आग के बाद वार्ड में मौजूद शिशुओं का शरीर काला पड़ गया था, यानी कि कमरे में काला धुआं काफी लंबे समय तक था। इस हादसे से अस्पताल की लापरवाही को लेकर कई सवाल खड़े किए जा रहे हैं। पहला ये कि जब बच्चों के कमरे का दरवाजा खोला गया तो वहां कोई स्टाफ नहीं था। महाराष्ट्र के CM उद्धव ठाकरे ने इस मामले में जांच का आदेश दिया था।

वार्ड में दो इन्क्यूबेटर से निकल रही थी आग
एक सिक्योरिटी गार्ड ने बताया था कि कमरे में चारों ओर धुआं ही धुआं फैला था। कई बच्चों के शरीर काले पड़ गए थे। दो इन्क्यूबेटर में से आग निकल रही थी। उसमें रखे बच्चे बुरी तरह से झुलस चुके थे। पूरा दृश्य दिल दहला देने वाला था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

और पढ़ें